रायपुर

नौ साल से लंबित था ऑनलाइन रिकार्ड अपडेशन, कलेक्टर ने दस मिनट में करा हितग्राही को दी प्रति

बी वन में ऑनलाइन नाम सुधार का मामला, कलेक्टर के कड़े निर्देश राजस्व रिकार्ड अपडेशन में न हो देरी

रायपुर। कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर भूरे ने आज जनचौपाल में लगभग नौ वर्षो से लंबित ऑनलाइन नाम परिवर्तन के मामले का तत्काल निपटारा कर दिया। मामला अभनपुर तहसील के छछानपैरी गांव का था। कलेक्टर ने लगभग नौ वर्षो से लंबित इस मामले पर राजस्व अधिकारियों और पटवारी पर गहरी नाराजगी व्यक्त की और भविष्य में इसकी पुनरावृति नहीं होने की सख्त हिदायत दी। उन्होंने संपत्ति की वैद्य खरीदी-बिक्री के बाद राजस्व रिकार्ड को हितग्राही के आवेदन पर तत्काल अपडेट करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।


आज कलेक्टर डॉ भूरे के कक्ष में हुए जन चौपाल में मोवा निवासी तीजराम साहू ने आवेदन देकर ऑनलाइन नाम अपडेशन में देरी की शिकायत की। तीजराम ने बताया कि पुत्र हरीश कुमार साहू के नाम से वात्सल्य बिल्डर्स एण्ड डेवलपर्स से वर्ष 2013 में छछानपैरी गॉव में परिवर्तित आवासीय प्लाट खरीदा था। उन्होंने बताया कि वात्सल्य बिल्डर्स एण्ड डेवलपर्स के संचालक प्रफुल्ल गाडगे से इस तीन हज़ार तिहत्तर वर्ग फ़ीट के प्लाट सी-14 की रजिस्ट्री कराई गई थी। तीजराम ने बताया कि इस जमीन का खरीदी के बाद बी-1 में नामांतरण होकर हरीश कुमार साहू का नाम दर्ज हो गया है, लेकिन ऑनलाइन रिकार्ड में अभी तक नाम परिवर्तन नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि ऑनलाइन रिकार्ड देखने पर यह भूमि किसी पीयूष जैन सदर बाजार रायपुर के नाम ही दर्ज दिखती है।
तीजराम ने कलेक्टर से ऑनलाइन रिकार्ड अपडेट करवाने की गुहार लगाई तो कलेक्टर डॉ भूरे ने भी तत्काल अभनपुर के राजस्व अधिकारियों को दूरभाष पर मामले की जानकारी दी और आवेदन भी व्हाट्सएप पर भेजा। उन्होंने तत्काल मामले का निराकरण कर ऑनलाइन रिकार्ड अपडेट करने के सख्त निर्देश दिए। कलेक्टर के निर्देश पर अभनपुर के राजस्व अधिकारियों ने तत्परता से राजस्व रिकार्ड ऑनलाइन अपडेट कर हरीश कुमार साहू का नाम दर्ज किया और उसकी कॉपी कलेक्टर को भेजी। कलेक्टर ने रिकार्ड की कॉपी तीजराम के मोबाइल पर भेजी। तीजराम ने नौ साल से लंबित रिकार्ड अपडेशन का काम एक दिन में ही हो जाने पर कलेक्टर के प्रति आभार जताया।

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!