कोरबा

अमृत सरोवर योजना के कार्यो में धीमी गति पर कलेक्टर ने जताई नाराजगी

प्रत्येक विकासखण्ड में ब्लॉक प्लांटेशन के लिए दो-दो जगहों का चिन्हाकन, मॉडर्न फार्मिंग के लिए किया जाएगा विकसित

जिले के सभी स्वामी आत्मानंद स्कूलों में किचन शेड, डायनिंग हॉल और सायकिल स्टैण्ड का होगा निर्माण

कलेक्टर  संजीव झा ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिये निर्देश

कोरबा /कलेक्टर  संजीव झा ने आज समय सीमा की साप्ताहिक बैठक में शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं की समीक्षा करते हुए आवश्यक निर्देश दिये। कलेक्टर श्री झा ने बैठक में अमृत सरोवर योजना अंतर्गत जल संरक्षण के लिए जिले में तालाब निर्माण के कार्यो की जानकारी ली। उन्होने तालाब के लिए जगह चिन्हांकन और चिन्हांकित जगहो में चल रहे निर्माण कार्यो के प्रगति के बारे में भी जानकारी ली। कलेक्टर श्री झा ने अमृत सरोवर योजना के तहत् प्रगतिरत कार्यो की धीमी गति पर जनपद पंचायत के सीईओ और मनरेगा एपीओ पर गहरी नाराजगी जताई। उन्होने अमृत सरोवर योजना के कार्यो को समय सीमा में पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। कलेक्टर श्री झा ने मॉडर्न फार्मिंग के जरिये महिला स्व सहायता समूहों को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाने के लिए महत्वपूर्ण पहल की है। उन्होने जिले के सभी विकासखण्डों में ब्लॉक प्लाटेंशन के लिए दो-दो जगहो का चिन्हांकन करने का निर्देश दिये है। चिन्हांकित जमीन पर उद्यानिकी विभाग द्वारा महिला स्व सहायता समूहों के सदस्यों को शामिल कर उद्यानिकी की उन्नत खेती करने की प्लानिंग की जाएगी। कलेक्टर ने इस कार्य के लिए उत्कृष्ट और बडे भू-खण्डों का चिन्हांकन कर विस्तृत कार्य योजना बनाने के निर्देश सभी तहसीलदारों और सहायक संचालक उद्यानिकी को दिये। समय-सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में एडीएम विजेन्द्र पाटले, जिला पंचायत के सी.ई.ओ. नूतन कंवर, नगर निगम आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय सहित सभी विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

कलेक्टर श्री झा ने समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी से जिले के स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूलों में विद्यार्थियों की भर्ती तथा रिक्त सीटो की जानकारी ली। उन्होने रिक्त सीटों पर भर्ती के लिए स्कूल प्रबंधन तथा स्थानीय जनप्रतिनिधियों से चर्चा कर विद्यार्थियों का एडमिशन करवाने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री झा ने सडको पर आवारा मवेशियों के जमावडा को हटाने के भी आवश्यक निर्देश दिये है। उन्होने सडकों को पशु मुक्त करने के लिए आवश्यक प्लानिंग करके सडको से पशुओं को हटाने के निर्देश सभी अनुविभागीय अधिकारियों को दिये है। कलेक्टर ने बैठक में वर्तमान खरीफ सीजन में जिले में चल रहे खेती किसानी की गतिविधियों के बारे में भी उपसंचालक कृृषि से जानकारी ली। उन्होने रोपा एवं बोता पद्वति से अभी तक हो चुके धान की बुवाई के बारे मे पूछा। साथ ही दलहन, तिलहन फसलों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होने कम वर्षा में होने वाले दलहन, तिलहन फसल जैसे रागी, कुल्थी, रामतिल एवं अरहर फसल की भी प्लानिंग करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री झा ने वन विभाग के अंतर्गत आवर्ती चराई, नरवा विकास परियोजना और समुदायिक वन संसाधन अधिकार एवं वन धन विकास केन्द्र निर्माण में  प्रगति के बारे में जानकारी ली। उन्होने इन कार्यो की धीमी प्रगति पर गहरी नाराजगी जताते हुए प्रगति लाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये है। कलेक्टर ने कहा कि शासन की योजनाओं को गंभीरता से प्राथमिकता से लेते हुए क्रियान्वयन किया जाए तथा लापरवाही न बरतते हुए समय सीमा में योजनाओं के कार्यो को पूर्ण करें।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button