IMG-20230125-WA0035
IMG-20230125-WA0037
IMG-20230125-WA0038
कोरबा

ग्राम  मदवानी और मोरगा में जल जीवन मिशन के अंतर्गत हो रहे सुचारू कार्य- ईई पीएचई

कोरबा/ ग्राम मोरगा और मदवानी में जल जीवन मिशन के अंतर्गत कार्य सुचारू रूप से जारी हैं। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्य पालन अभियंता ने दैनिक अखबार में प्रकाशित शीर्षक ’ग्राम मदवानी एक बाल्टी पानी भरना हो रहा मुश्किल तथा ग्राम मोरगा काम पूरा होने के बाद भी पानी नसीब नहीं’ खबर कोे निराधार बताया हैं। ईई पीएचई ने अपने प्रतिवेदन में कहा है कि ग्राम मदवानी की पानी टकी से जुडे बोर में पर्याप्त पानी है एवं उक्त नलकूप से ही पानी टंकी को भरकर जल प्रदाय किया जाता है। ग्राम में विद्युत व्यवस्था रायगढ़ जिले से है जिससे कि कई बार लो वोल्टेज की समस्या के कारण टंकी नहीं भर पाती है। इसी तरह ट्रासफार्मर-विद्युत लाईन में खराबी आने पर सुधार कार्य में विलम्ब होता है। उन्हांेने कहा कि ’बस्ती से जिसका घर दूर है वहां पर कनेक्शन नहीं दिया जा रहा है’ इस संबंध में लेख है कि भारत सरकार द्वारा जल जीवन मिशन के कार्यों हेतु जारी मार्गदर्शिका के पृष्ठ क्र 05 में यह उल्लेखित है कि बसाहट से दूर एकल घर को नल जल योजना में शामिल नहीं किया जाना है। ग्राम मोरगा वि.ख. पोडी-उपरोडा मंे जल जीवन मिशन की अंतर्गत टंकी निर्माण एवं पाईप लाईन बिछाने का कार्य किया जा रहा है। ’पहाडी इलाका होने की वजह से इस क्षेत्र में बोर सफल नहीं होते है। ठेकेदार ने बगैर स्त्रोत जांचे ही पानी टंकी का निर्माण तो कर दिया लेकिन अब बोर करने में पिछे हट रहा है’। इस संबंध में लेख है कि योजनातर्गत टंकी निर्माण कार्य प्रारंभ करने के पूर्व सम्पत सिंह पिता मंगला गोड तथा आनंद श्रीवास नाई के घर के सामने के दोनों नलकूपों का परीक्षण किया गया है। तथा पर्याप्त पानी की मात्रा पाये जाने के उपरांत कार्य किया जा रहा है। नया बोेर करने का कार्य ठेकेदार के अनुबंध में शामिल नहीं है। अतः उनके द्वारा पिछे हटने का प्रश्न ही नहीं उठता है।

’ग्राम मोरगा में पाईप लाईन के जमीन के ऊपर तथा बगैर पीसीसी किए ढक दिया गया है’। इस संबंध में लेख है कि पाईप लाईन को पीसीसी से नहीं ढ़का जाता है। ऐसी स्थिती में मरम्मत कार्य नहीं किया जा सकेगा। वर्तमान में पाईप लाईन बिछाने कार्य प्रगतिरत है इसलिए कई जगहों पर पाईप लाईन को ढका नहीं गया है। जैसे-जैसे कार्य पूर्ण होता जाएगा वैसे-वैसे पाईप को ढकने की कार्यवाही की जाती है।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!