IMG-20230125-WA0035
IMG-20230125-WA0037
IMG-20230125-WA0038
कोरबा

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर 11मार्च को राजधानी में एक दिवसीय विशाल धरना प्रदर्शन

 

कोरबा/ नेशनल मोमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम (NMOPS) के बैनर तले छत्तीसगढ़ के विभिन्न शिक्षक कर्मचारी अधिकारी संगठन के प्रांतीय अध्यक्ष प्रांतीय संचालक के समान भूमिका में एवम नेतृत्व मे11 मार्च 2022 को बूढ़ा तालाब रायपुर राजधानी धरना स्थल में एक दिवसीय ध्यानाकर्षण प्रदर्शन करेंगे इस प्रदर्शन में पुरानी पेंशन से वंचित अर्थात 1 जनवरी 2004 के पश्चात नियुक्त समस्त कर्मचारी अधिकारी भाग लेंगे और इसी बजट सत्र में पुरानी पेंशन बहाली करने की घोषणा का मांग छत्तीसगढ़ सरकार के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से करेंगे ।

ज्ञातव्य हो कि NMOPS के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा छत्तीसगढ़ के विभिन्न कर्मचारी संगठनों के प्रांतीय अध्यक्षों को शामिल करते हुए सभी प्रांतीय अध्यक्ष प्रांतीय संचालकों के समान भूमिका में सामूहिक कर्मचारी हित में कार्य करेंगे एवं पुरानी पेंशन बहाली नेतृत्व को मजबूत करेंगे।
(NMOPS) का गत दिवस हुआ विस्तार
NMOPS के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय बंधु द्वारा गत दिवस छत्तीसगढ़ में विभिन्न कर्मचारी संगठनों में नेतृत्व कर रहे विभिन्न संगठनों के प्रमुखों को महत्वपूर्ण दायित्व प्रदान करते हुए छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ ,छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ,छत्तीसगढ़ एंप्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ नवीन शिक्षक संघ, छत्तीसगढ़ सर्व शिक्षक संघ के प्रमुखों जैसे केदार जैन, मनीष मिश्रा ,कृष्ण कुमार नवरंग ,विकास सिंह राजपूत, प्रदीप पांडे, राकेश सिंह, टार्जन गुप्ता, विवेक दुबे, सभी प्रांतीय अध्यक्ष को NMOPS में प्रांतीय संचालक का समान दायित्व प्रदान करते हुए समान नेतृत्व में पुरानी पेंशन बहाली की लड़ाई को आगे बढ़ाएंगे राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय बंधु ने सभी कर्मचारी संगठनों को इस लड़ाई में जुड़ने के लिए आह्वान किया है।

पुरानी पेंशन बहाली से 280000 कर्मचारियों को होगा लाभ
छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश बघेल ने बताया कि छत्तीसगढ़ में पुरानी पेंशन से वंचित जो 1 जनवरी 2004 से नियुक्त कर्मचारियों अधिकारियों की संख्या लगभग छत्तीसगढ़ में 280000 है जिसको पुरानी पेंशन के बहाल होने से उनके एवं उनके परिवार का भविष्य सुरक्षित होगा ,जब किसी भी व्यक्ति को अपना भविष्य सुरक्षित लगता है तो निश्चित ही उनके कामों में और पैनापन, मजबूती दृढ़ता एवं लगन आता है जिसका लाभ पूरे समाज और हर वर्ग को प्राप्त होता है इसलिए पुरानी पेंशन की बहाली अति आवश्यक है।
कांग्रेस के जन घोषणा पत्र में किया गया था वायदा
छत्तीसगढ़ राज्य के चुनाव 2018 में वर्तमान सत्तासीन भारतीय कांग्रेस पार्टी द्वारा अपने जन घोषणापत्र में छत्तीसगढ़ के पेंशन विहीन 280000 कर्मचारियों अधिकारियों से पुरानी पेंशन बहाली करने का वायदा किया गया है जिसे अब पूरा करने का समय आ गया है सरकार को चाहिए कि अपने कर्मचारियों के भविष्य को सुरक्षित करते हुए इन्हें एक बड़ा सौगात देकर पुरानी पेंशन बहाल करने की घोषणा वर्तमान बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा किया जाने की मांग NMOPS करता है।
11 मार्च 2022 के ध्यानाकर्षण प्रदर्शन में शामिल होने की अपील
छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के कार्यकारी प्रदेशअध्यक्ष ओम प्रकाश बघेल ने छत्तीसगढ़ के समस्त पुरानी पेंशन विहीन 280000 कर्मचारियों अधिकारियों से अपील कि है की अपने व अपने परिवार के भविष्य के लिए 11 मार्च 2022 को 11:00 बजे धरना स्थल बूढ़ा तालाब राजधानी रायपुर में आयोजित पुरानी पेंशन बहाली एक दिवसीय ध्यानाकर्षण प्रदर्शन में शामिल होकर अपनी मांग व आवाज को बुलंद करें एवं सरकार तक अपनी मांग को पहुंचाएं ताकि वर्तमान बजट सत्र में इसकी घोषणा हो जाए ।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!