रायपुर

बीरगांव वासियों को जल्द मिलेगा भरपूर पानी, उरला वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से तत्काल मिलेगा डेढ़ एम एल डी पानी

कलेक्टर सौरभ कुमार ने दिए निर्देश,औद्योगिक संस्थानों के नलकूपों से भी लिया जाएगा पानी

बीरगांव में पानी की समस्या दूर करने हुई मैराथन बैठक, विधायक श्री शर्मा भी रहे मौजूद

रायपुर/ बीरगांव नगर निगम क्षेत्र में पानी की समस्या का जल्द समाधान होने के आसार है। जल्द ही बीरगांव वासियों को उपयोग के लिए साफ और भरपूर मात्रा में पानी मिलने लगेगा। आज कलेक्टर सौरभ कुमार ने बीरगांव में पानी की कमी को लेकर अधिकारियों के साथ मैराथन बैठक की। बैठक में रायपुर ग्रामीण क्षेत्र के विधायक सत्यनारायण शर्मा भी मौजूद रहे। श्री शर्मा ने बीरगांव में पानी की समस्या को दूर करने विधायक निधि के उपयोग पर भी सहमति जताई और अधिकारियों को जल्द से जल्द इस समस्या के निराकरण के लिए सभी संभव उपाय करने को कहा।

इस उच्चस्तरीय बैठक में कलेक्टर सौरभ कुमार ने बीरगांव निगम क्षेत्र में पानी की कमी और गंदे पानी की समस्या के कारणों की गहराई से समीक्षा की और इसे सुलझाने के लिए त्वरित करवाई करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।कलेक्टर ने बैठक में मौजूद सी एस आई डी सी के अधिकारियों को उरला के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से तत्काल डेढ़ एम एल डी पानी बीरगांव नगर निगम को देने के निर्देश दिए। श्री कुमार ने जल संसाधन विभाग द्वारा बेन्द्री एनीकट से बीरगांव निगम को मिलने वाले प्रस्तावित पानी को भी जल्द से जल्द सी एस आई डी सी के इंटेक वेल से उपलब्ध कराने को कहा। उन्होंने जरूरत और उपलब्धता के आधार पर खमतराई के ओवरहेड रिजर्वोयर से भी बीरगांव नगर निगम को पानी देने के निर्देश रायपुर नगर निगम के अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर ने उरला औद्योगिक क्षेत्र के फैक्ट्रियो और कारखानों के नलकूपो में वर्तमान में उपलब्ध पानी की जानकारी लेने को भी कहा। इन औद्योगिक संस्थानों में पर्याप्त पानी होने पर बीरगांव निगम क्षेत्र को उपलब्ध कराने के निर्देश कलेक्टर ने बैठक में दिए। पानी की आपूर्ति के लिए परिवहन की समुचित व्यवस्था बीरगांव नगर निगम द्वारा की जाएगी। श्री कुमार ने पानी के परिवहन के लिए पर्याप्त संख्या में टैंकरों की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने बीरगांव नगर निगम क्षेत्र में फिलिंग पॉइंट के लिए तत्काल चार बोरिंग करने को भी अधिकारियों को निर्देशित किया।

गंदे पानी की समस्या पर चर्चा के दौरान अधिकारियों ने बताया कि खारुन नदी में जल स्तर कम हो जाने के कारण गंदे पानी की समस्या हुई है।

कलेक्टर ने तेंदुआ नाला से संलग्न उद्योगों के ई टी पी की जांच करने एस डी एम की अध्यक्षता में पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों की समिति भी बना दी। श्री कुमार ने बीरगांव नगर निगम और सी एस आई डी सी के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के पानी की गुणवत्ता की नियमित जांच के लिए एजेंसी नियुक्त करने के भी निर्देश बैठक में दिए।

बैठक में नगर निगम रायपुर के कमिश्नर प्रभात मलिक,बीरगाँव नगर निगम के आयुक्त श्रीकांत वर्मा, जल संसाधन विभाग, सी एस आई डी सी के अधिकारियों सहित जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष पंकज शर्मा, महापौर नन्दलाल देवांगन, सभापति कृपाराम निषाद, एम आई सी सदस्य इकराम अहमद, ओम प्रकाश साहू और शिव साहू भी शामिल हुए।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button