कोरबा

विद्युत कंपनी संयंत्रों के 3000 ठेका श्रमिक करेंगे आंदोलन

 

कोरबा / छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी के डी एस पी एम,दर्री एवं मड़वा संयंत्रों के 3000 ठेका श्रमिक बकाया बोनस,वेतन पर्ची एवं न्यूनतम वेतन के समझौते पर प्रबंधन की वादाखिलाफी को लेकर छत्तीसगढ़ विद्युत कर्मचारी संघ फेडरेशन के बैनर तले आंदोलनकरेंगें।
इस आशय की नोटिस फेडरेशन 01 के महासचिव आर सी चेट्टी ने मुख्यालय एवं स्थानीय प्रबंधन को प्रेषित करते हुए संगठन के साथ हुए द्विपक्षीय एवं त्रिपक्षीय लिखित समझौते का पालन करने 28 फरवरी 2022 तक निर्णय नहीं लिये जाने पर तीनों ही संयंत्रों के ठेका श्रमिक आंदोलन करेंगें।

उल्लेखनीय है कि विद्युत कंपनी प्रबंधन द्वारा ठेका श्रम कानूनों के अनुपालन में लगातार कोताही बरती जा रही है जिसके कारण सभी ठेका श्रमिक 20 अक्टूबर से 3 नवंबर 2021 तक न्यूनतम बोनस, वेतन पर्ची एवं न्यूनतम वेतन की मांग को लेकर आंदोलित थे।प्रबंधन द्वारा शत प्रतिशत ठेका श्रमिकों के आंदोलन के कारण कार्य एवं उत्पादन प्रभावित होने की स्थिति में वार्ता कर द्विपक्षीय एवं त्रिपक्षीय समझौता किया गया जिसके अनुसार ठेका श्रमिकों को 7000 बोनस भुगतान के साथ ही तात्कालिक रूप से 3500-3500 रुपए दो किश्तों में बोनस भुगतान का लिखित आश्वासन भी दिया गया।प्रबंधन द्वारा बोनस की दूसरी किश्त,वेतन पर्ची, न्यूनतम वेतन आदि के संबंध में कार्यवाही नहीं किये जाने से आम ठेका श्रमिकों में असंतोष व्याप्त है।महासचिव आर सी चेट्टी जी ने प्रबंधन की वादाखिलाफी के कारण पुनः आंदोलन में जाने की घोषणा की है।आंदोलन को सफल बनाने फेडरेशन 01डी एस पी एम कोरबा पूर्व शाखा अध्यक्ष पवन दास, सचिव घनश्याम साहू, दर्री शाखा अध्यक्ष प्रदीप पांडेय, सचिव मनोज वर्मा एवं मड़वा शाखा अध्यक्ष भूपेंद्र कन्नौजे,सचिव देवनारायण बांधे द्वारा संयंत्रों में ठेका श्रमिकों के साथ इस संबंध में निरंतर बैठक आयोजित की जा रही है।आंदोलन को सफल बनाने जोनल सचिव सरोज राठौर द्वारा सभी संयंत्रों के पदाधिकारियों एवं ठेका श्रमिकों के साथ सघन संपर्क किया जा रहा है। उपरोक्त जानकारी डी एस पी एम शाखा अध्यक्ष पवन दास एवं शाखा सचिव घनश्याम साहू के द्वारा संयुक्त रूप से दी गईं।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button