कोरबा

सांसद ज्योत्सना महंत की मांग पर नितिन गडकरी ने दिखाई गंभीरता

कोरबा संसदीय क्षेत्र में महत्वपूर्ण सड़कों पर सांसद ने रखी मांग

इकोनॉमिक कॉरिडोर के कार्य में तेजी लाने का किया आग्रह

कोरबा लोकसभा क्षेत्र की सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत ने अपने संसदीय क्षेत्र के महत्वपूर्ण मार्गों के संबंध में केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन राजमार्ग एनएचएआई, भारत सरकार से मुलाकात कर चर्चा की।
नई दिल्ली में आयोजित बैठक में सांसद ज्योत्सना महंत ने उन्हें अपने कोरबा क्षेत्र क्रमांक-04 में सड़क स्वीकृति के संदर्भ में मांग प्रस्तुत करते हुए स्वीकृति प्रदान करने का आग्रह किया। सांसद ने कोरबा जिले में 41 किलोमीटर के झगरहा-कोरकोमा-मदनपुर-बासीन मार्ग के बारे में बताया कि यह कोरबा जिला को रायगढ़ एवं जशपुर जिला से जोड़ने वाला कम दूरी का मुख्य मार्ग है। वर्ष 2009-10 में निर्मित इस सड़क का सुदृढ़ीकरण कराना आवश्यक है। इसी प्रकार नोनबिर्रा-रामपुर-बेहरचुआं मार्ग 27 किलोमीटर के भी सुदृढ़ीकरण की आवश्यकता बताई जो विधानसभा रामपुर को खरसिया होते हुए रायगढ़ जिला को जोड़ता है। कोरबा जिले की सीमा से श्यांग-कुदमुरा से जांजगीर जिला की सीमा एवं रायगढ़ जिला के साथ छत्तीसगढ़ राज्य को उड़ीसा से जोड़ने वाले इस 71 किलोमीटर लंबे राज्य मार्ग क्रमांक-16 के सुदृढ़ीकरण की नितांत आवश्यकता बताई गई है। इस मार्ग का निर्माण होने से वनांचल गांव के लोगों को जिला मुख्यालय आने-जाने में बारहो महिने आवागमन की सुविधा होगी।

चैतुरगढ़-मड़वारानी पहाड़ तक मांगी सड़क
सांसद ने पतरापाली से कटघोरा के मध्य ऐतिहासिक धरोहर चैतुरगढ़ पहाड़ तक सड़क निर्माण, चाम्पा-उरगा के मध्य मां मड़वारानी मार्ग तक सड़क निर्माण की मांग रखी है। बिलासपुर से पतरापाली व्हाया पाली-कटघोरा सड़क निर्माण का शेष कार्य जल्द पूर्ण करने की स्वीकृति का आग्रह किया है। इसी तरह कोरबा के चोटिया से मनेन्द्रगढ़ के छोटा नागपुर टू-लेन सड़क निर्माण एवं कटघोरा से पसान-कोटमी, पेण्ड्रा-गौरेला होते हुए ग्राम पीपरखूंटी तक सड़क निर्माण स्वीकृति की मांग रखी है।

कोरिया का सीधा संपर्क राजधानी से करें
सांसद ने सड़क मंत्री नितिन गडकरी से नेशनल हाइवे-130 चोटिया से कोरबी-खड़गंवा-बैकुंठपुर की सड़क 100 किलोमीटर को नेशनल हाइवे में जोड़कर कोरिया जिला का सीधा संपर्क राजधानी से करने का आग्रह किया। नवीन जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही के कारीआम से बसंतपुर कोटमी मरवाही होते हुए मनेन्द्रगढ़ 90 किलोमीटर, पीपर खूटी से गौरेला बाईपास ओव्हर ब्रिज होते हुए अंजनी नेवसा चुक्तीपानी जलेश्वर अमरकंटक (मध्यप्रदेश) 40 किलोमीटर तथा अंजनी से धनौली करगंरा पोड़की इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय राजेन्द्र ग्राम अनुपपुर 40 किलोमीटर सड़क निर्माण की स्वीकृति चाही गई है।

इकोनॉमिक कॉरिडोर में शामिल सड़क शीघ्र कराएं
सांसद ने देश के 44 इकोनॉमिक कॉरिडोर में शामिल रायपुर से धनबाद ग्रीन कॉरिडोर सड़क का कार्य जल्द प्रारंभ कराने का आग्रह केन्द्रीय मंत्री से किया है। कहा है कि सड़क का मुख्य हिस्सा बिलासपुर से धनबाद जो उरगा, पत्थलगांव, कुनकुरी, जशपुर से होकर झारखंड तक पहुंचेगा। इस सड़क के निर्माण से निर्वाचन क्षेत्र कोरबा लोकसभा सहित बिलासपुर, रायगढ़, जांजगीर-चाम्पा क्षेत्र के लोगों को व्यापक लाभ होगा।

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!