कोरबा

कलेक्टर श्रीमती साहू ने इमली छापर- सर्वमंगला सड़क निर्माण में बिना स्वीकृति के 11 करोड़ रुपए  व्यय करने पर पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों पर जताई गहरी नाराजगी

इमली छापर - सर्वमंगला  सड़क निर्माण कार्य को  2 दिन के भीतर  शुरू करने के दिए निर्देश

निर्माण कार्य प्रगति की 15 दिन में होगी पुनः समीक्षा

कोरबा/कलेक्टर रानू साहू ने इमली छापर- सर्वमंगला सड़क निर्माण में बिना स्वीकृति के 11 करोड़ रुपये व्यय करने पर पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों पर गहरी नाराजगी जताई है। उन्होंने बगैर स्वीकृति के डीपीआर से अधिक व्यय करने तथा विभागीय लापरवाही और नियमों की अनदेखी के कारण सड़क निर्माण काम रुकने पर भी नाराजगी जताई। वर्तमान में छह करोड़ रुपए से अधिक राशि मोबिलाइजेशन के लिए पीडब्ल्यूडी विभाग के खाते में मौजूद है। इसके बावजूद सड़क निर्माण काम रुकने पर विभाग की लापरवाही दर्शाता है। उन्होंने सड़क निर्माण के कार्य को 2 दिन के भीतर शुरू करने के निर्देश दिए। साथ ही कहा की सड़क निर्माण  प्रगति की समीक्षा के लिए  15 दिन में बैठक आयोजित की जाएगी।  उन्होंने सड़क निर्माण की प्रगति की जानकारी समीक्षा बैठक में देने के लिए भी निर्देशित किया। उन्होंने बैठक में कहा कि सड़क निर्माण में अन्य आकस्मिक व्यय भी डीपीआर में प्रस्तावित सीमा के अंतर्गत नहीं किया गया है।कलेक्टर श्रीमती साहू ने बिना स्वीकृति के अतिरिक्त व्यय राशि की जांच के लिए भी समिति गठित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। समिति अतिरिक्त व्यय राशि की जांच करेगी।

कलेक्टर रानू साहू ने लोगो  के सुलभ आवागमन के लिये इमली छापर सर्वमंगला सड़क निर्माण के काम को तत्काल 2 दिन के भीतर शुरू करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्रीमती साहू ने इस संबंध में पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों और सड़क निर्माण के काम में लगे ठेकेदारों की बैठक लेकर आवश्यक निर्देश दिए।  उन्होंने सड़क निर्माण के काम को समय सीमा में पूरा करने की विस्तृत कार्य योजना की भी जानकारी ली। कलेक्टर श्रीमती साहू ने लोगों को आवागमन सुविधा प्रदान करने के लिए तत्काल काम को शुरू करने के निर्देश बैठक में मौजूद अधिकारियों और ठेकेदार को दिए। बैठक के दौरान ईई पीडब्ल्यूडी श्री एके वर्मा सहित सड़क निर्माण कार्य में लगे ठेकेदार मौजूद रहे।

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!