कोरबा

जिले के दूरस्थ क्षेत्रों में बैंक शाखा खोलने के लिए बनेगी कार्य योजना,

स्कूल, आंगनबाड़ी और छात्रावास में उपयोगी दाल, तेल आदि खाद्य सामानों का उत्पादन करेंगी महिला समूह,

कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में कार्य योजना बनाने के दिए निर्देश

कोरबा/कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने जिले के दूरस्थ वनांचल क्षेत्रों में लोगों को बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए विशेष पहल की है। उन्होंने पसान, अजगरबहार एवं लेमरू जैसे दूरस्थ क्षेत्रों में बैंक शाखा खुलवाने के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। कलेक्टर श्रीमती साहू ने  बैंकिंग अधिकारियों के साथ बैठक कर आवश्यक तकनीकी और भौतिक विषयों पर चर्चा कर प्रस्ताव बनाने के निर्देश समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने बैठक में हितग्राहियों के लंबित पेंशन प्रकरणों की भी जांच कराकर समय में हितग्राहियों को पेंशन प्रदान करने के भी निर्देश दिए हैं। स्कूल आंगनबाड़ी और छात्रावासों में उपयोग होने वाले दाल, तेल जैसे राशन सामानों का उत्पादन और सप्लाई स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा की जाएगी। इससे ग्रामीण महिलाओं को स्वरोजगार मिलेगा। कलेक्टर श्रीमती साहू ने इसके लिए कार्य योजना बनाने और समूह का चिन्हांकन करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने शिक्षा विभाग, आदिवासी विकास विभाग और महिला बाल विकास विभाग से स्कूल, आंगनबाड़ी, छात्रावास में वार्षिक दाल, तेल, आलू प्याज, आदि की खपत की जानकारी लेकर महिलाओं को राशन सामानों के उत्पादन के लिए तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने राशन सामानों के उत्पादन और सप्लाई के लिए महिला समूह को ट्रेनिंग देने के भी निर्देश दिए हैं। समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में एडीएम सुनील नायक, जिला पंचायत सीईओ नूतन कुमार कंवर सहित सभी विभागों के अधिकारी गण मौजूद रहे।


समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने रूरल टूरिज्म और एग्रो टूरिज्म के लिए गांव का चिन्हांकन करने के भी निर्देश कृषि विभाग और जनपद पंचायत के अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने विशेष कृषि वाले क्षेत्रों और ग्रामीण इलाकों में पर्यटन की दृष्टि से विकसित हो रहे क्षेत्रों का चिन्हांकन कर प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने बैठक में सामुदायिक वन पट्टा भूमि में मुनगा की खेती के लिए किसानों को तैयार करने के निर्देश उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने निराश्रित राशन कार्ड धारी और 60 वर्ष से ऊपर  के हितग्राहियों को राशन  उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था करने के  निर्देश खाद्य विभाग के अधिकारियों को दिए हैं। शासकीय राशन दुकान तक आने में असमर्थ बुजुर्गों के नॉमिनी भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने बैठक में शहर में कम दर पर विभिन्न प्रकार के जांच की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए लैब खोलने के कार्य योजना भी बनाने के निर्देश दिए हैं। लैब में सभी प्रकार की जांच की सुविधा जैसे सीटी स्कैन, एमआरआई और सभी प्रकार की खून जांच की सुविधा रहेगी। उन्होंने लैब के लिए जगह चिन्हांकन और विस्तृत कार्ययोजना बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button