कोरबा

पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कलेक्टर की विशेष पहल, फ्लाई एश डम्पिंग भूमि में लगाये जायेंगे इमारती वृक्ष मेलिया-दूबिया

विशेष पिछड़ी जनजाति सदस्यों के वन अधिकार पट्टा, राशन, पेंशन, आधार कार्ड बनाने के लिए 11 सितम्बर तक होगा ग्राम सभा का आयोजन

 

छूटे हुए लोगों के वैक्सीनेशन के लिए 12 सितम्बर से चलेगा वैक्सीनेशन महाअभियान

कलेक्टर  संजीव झा ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

कोरबा /कलेक्टर संजीव झा ने जिले में पर्यावरण संरक्षण की दिशा में विशेष पहल की है। विद्युत संयत्रों से निकले फ्लाई एश के रख-रखाव और पर्यावरण संरक्षण हित में महत्वपूर्ण कदम उठाया है। फ्लाई एश डम्पिंग भूमि में इमारती वृक्ष मेलिया-दूबिया का रोपण किया जाएगा। जहां एक ओर वृक्ष रोपण से डम्पिंग ग्राउंड से फ्लाई एश के बारिश में बहकर फसलों को होने वाले नुकसान से राहत मिलेगी। वही दूसरी ओर भूमि में उगाये गये इमारती वृक्ष का व्यवसायिक लाभ भी मिलेगा। कलेक्टर श्री झा ने मंगलवार को आयोजित समय सीमा की समीक्षा बैठक में फ्लाई एश डम्पिंग लैण्ड में मेलिया-दूबिया पौध रोपण के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश पर्यावरण विभाग के अधिकारियों को दिये। सहायक संचालक उद्यानिकी ने बताया कि मेलिया-दूबिया लगाने के लिए प्रारंभिक चरण में तीन जगहों पर जमीन का चिन्हांकन किया गया है। इसमें कोहड़िया में लगभग 40 एकड़, महोरा में 10 एकड़ एवं कटबितला के लगभग पांच एकड़ फ्लाई एश डम्पिंग लैण्ड शामिल है। कलेक्टर श्री झा ने मेलिया-दूबिया लगाने के लिए आवश्यक सहयोग सार्वजनिक क्षेत्र के औद्योगिक संस्थानों से प्राप्त करने तथा पर्यावरण और उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों के तकनीकी सहयोग से कार्य योजना को पूर्ण करने के निर्देश दिये। समय-सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में डीएफओ कोरबा श्रीमती प्रियंका पाण्डेय, डीएफओ कटघोरा श्रीमती प्रेमलता यादव, जिला पंचायत के सी.ई.ओ. नूतन कंवर सहित सभी विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।


समय सीमा की बैठक में कलेक्टर श्री झा ने जिले की विशेष पिछडी जनजाति सदस्यों के राशन, पेंशन, वन अधिकार पट्टा आदि बनाने के लिए विशेष ग्राम सभा आयोजित करने के निर्देश दिये। ग्राम सभा सात से 11 सितम्बर तक जिले के विशेष पिछड़ी जनजाति निवासरत ग्राम पंचायत, आश्रित ग्राम, पाराटोला एवं मोहल्ला में आयोजित की जाएगी। ग्राम सभा में जाति, निवास प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, आधार कार्ड, वन अधिकार पट्टा बनाने के लिए हितग्राहियों का चयन तथा अनुमोदन किया जाएगा। ग्राम सभा में राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना अंतर्गत छूटे हुए पात्र हितग्राहियों का पंजीयन एवं अनुमोदन भी किया जाएगा। साथ ही बैगा और गुनिया का भी चिन्हांकन कर ग्राम सभा के माध्यम से अनुमोदन किया जाएगा। कलेक्टर श्री झा ने विशेष पिछड़ी जनजाति परिवारों के हित के लिए आयोजित होने वाले ग्राम सभा की सभी तैयारियां सुनिश्चित करने और ग्राम सभा में गणपूर्ति पूर्ण कराने के भी निर्देश दिये।

जिले में कोविड टीका लगवाने से अब तक छूटे हुए लोगों के टीकाकरण के लिए 12 सितम्बर से पुनः वैक्सीनेशन महाअभियान चलाया जाएगा। महाअभियान के दौरान टीकाकरण से छुटे हुए 12 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को आवश्यकतानुसार कोविड का पहला, दूसरा और बूस्टर टीका लगाया जाएगा। कलेक्टर श्री झा ने वैक्सीनेशन महाअभियान के लिए स्वास्थ्य, शिक्षा विभाग, महिला बाल विकास विभाग एवं राजस्व विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों के समन्वय से अधिक से अधिक लोगों का कोविड टीकाकरण करने की कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये। उन्होने अधिक संख्या में वैक्सीनेशन टीम लगाकर छूटे हुए लोगों के टीकाकरण करने के भी निर्देश दिये। समय सीमा की समीक्षा बैठक में कलेक्टर श्री झा ने जिले के सभी ग्राम पंचायतों में गौठान विकसित करने के लिए जगह चिन्हांकन की प्रगति के बारे में भी समीक्षा की। उन्होने गौठान बनाने से छूटे हुए ग्राम पंचायतों में पांच एकड़ जमीन चिन्हांकित करने तथा स्वीकृति के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजने के भी निर्देश दिये। उन्होने गोधन न्याय योजना अंतर्गत जिले में गोबर खरीदी तथा वर्मी कम्पोस्ट निर्माण के बारे में भी जानकारी ली। साथ ही जिले के गौठानों में बिजली कनेक्शन लगाये जाने की प्रगति के बारे में भी पूछा। उन्होने बचे हुए गौठानों में तेजी से विद्युत कनेक्शन लगाने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने नागरिकों के आयुष्मान कार्ड बनाने के बारे में भी जानकारी ली। उन्होने विशेष शिविरों के माध्यम से जिला और जनपद स्तरीय अधिकारियों के समन्वय से छूटे हुए लोगों के स्वास्थ्य कार्ड बनाने के निर्देश दिये।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!