कोरबा

प्रदेश महासचिव युवा कांग्रेस सज्जाद आलम ने बालको प्रबंधन की “बेड मैनेजमेंट” नीति के खिलाफ कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

कोरबा,23 जनवरी (ट्रैक सिटी न्यूज़) प्रदेश युवा कांग्रेस के महासचिव सज्जाद आलम के नेतृत्व में युवा कांग्रेसियों ने बालको प्रबंधन की लगातार हठधर्मिता रवैये,वादा खिलाफी और बालको कोरबा की जनता को परेशान करने के मकसद से किये जा रहे *बेड मैनेजमेंट* के विरोध में कोरबा कलेक्टर को निम्न बिन्दुवों पर चेतावनी स्वरुप ज्ञापन सौंपा

1.सड़को में ट्रकों द्वारा राखड़ के ढुलाई को शीघ्र बंद किया जाए
2. राखड़ का ट्रांसपोर्ट कैप्सूल ट्रकों से किया जाए , राखड़ की खुली ट्रांसपोर्ट के कारण सड़क में बड़े बड़े गड्ढे हो गए हैं, आय दिन दुर्घटना होती हैं
3. राखड़ के खुले ट्रांसपोर्ट की वजह से बालको रूमगरा, परसाभटा,बेलगिरी बस्ती के लोगो का वायु प्रदूषण में जीना मुश्कि हो गया हैं, राखड़ को ट्रक में त्रिपाल से ढक कर ले जाने के बजाय बंद कैप्सूल ट्रक में ट्रांसपोर्ट किया जाए
4. हाल ही में बालको वासियों द्वारा परसाभाटा में चक्का जाम किया गया था प्रदूषण और अन्य मुद्दों पर उसका तत्काल निराकरण किया जाए
5.पर्यावरण विभाग द्वारा जारी पत्र 9/12/12 के संदर्भ में संबंधित अधिकारी को कड़ा दंड दिया जाए
6. लगातार क्षेत्र वासियो के साथ रोजगार हेतु सौतेलापन का व्यवहार किया जा रहा हैं,जबकि बालको में दिन प्रतिदिन नई कंपनियों में बाहर से और कुछ दलालो द्वारा भर्ती की जा रही हैं, स्थानीय लोगो को तत्काल रोजगार में प्राथमिकता दी जाए
7. बालको के अतिरिक्त 5.3 लाख टन प्रतिवर्ष उत्पादन इकाई की जन सुनवाई में बालको प्रबंधन द्वारा जो वादे हमे पर्यवरण संरक्षण और स्थानीय रोजगार के लिए किए गए थे उसे शीघ्र अति शीघ्र किया जाए ।

प्रदेश महासचिव युवा कांग्रेस सज्जाद आलम ने बताया कि बालको प्रबंधन की कृत्यों से क्षेत्र वासियों को निरंतर समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है यदि
उपरोक्त बिंदुओं पर तत्काल बालको प्रबंधन चर्चा कर निराकरण नही करती हैं तो युवा कांग्रेस, nsui वृहद आंदोलन करेगी जिसकी पूर्ण जवाबदेही बालको प्रबंधन की होगी, कलेक्टर महोदय ने ज्ञापन को गंभीरता से लेते हुए युवावों को आश्वस्त किया कि वो जल्द ही बालको प्रबंधन को चर्चा कर निर्देशित करेंगे।
सज्जाद आलम के साथ पूर्व जिला महासचिव शिवा केशरवानी, संजय सोनी, आशुतोष , दिनु महराज एवम कोरबा युवा कांग्रेसी उपस्थित थे

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!