कोरबा

महाप्रबंधक कार्यालय कोरबा के समक्ष 38 सुत्रीय विभिन्न मांगों को लेकर एटक का धरना प्रदर्शन

कोरबा। एटक एसईसीएल केंद्र के निर्णय अनुसार आज महाप्रबंधक कार्यालय कोरबा के समक्ष 38 सुत्रीय विभिन्न मांगों के लिए धरना प्रदर्शन किया गया ।जिसमें एटक कोरबा क्षेत्र के अंतर्गत सभी इकाइयों के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं ने शिरकत किया। उसके बाद कोरबा क्षेत्र के महाप्रबंधक विश्वनाथ सिंह एवं क्षेत्रीय कार्मिक प्रबंधक एन.के.पटनायक को ज्ञापन सौंपा गया। इस मौके पर एटक के दीपेश मिश्रा ने बताया कि मांग पत्र मे यह कहा गया है कि राष्ट्रीय कोयला वेतन समझौता 11 पर जल्द से जल्द फैसला किया जाए इसी तरह सभी खदानों मे सुरक्षा के नियमों का शत-प्रतिशत पालन किया जाए विशेषकर भूमिगत खदानों में पुख्ता वेंटिलेशन का व्यवस्था किया जाए, इसके साथ ही कोरबा क्षेत्र के प्रबंधन द्वारा बारंबार यह धमकी दिया जाता है कि चालू खदानों को बंद कर दिया जाएगा जो तर्कसंगत नहीं है ऐसी किसी भी कोशिश को संगठन पुरे ताकत से खिलाफत करेगी ।इसी तरह यह भी देखा जा रहा कि प्रबंधन को मजदूरों के हित के लिए जो कल्याणकारी कार्य किया जाना है उसे भी जानबूझकर रोका जा रहा है ,वहीं प्रबंधन का तानाशाही रवैया अपनाकर मजदूरों का बेवजह हाजिरी काटना आम बात हो गई है इस पर तुरंत रोक लगाई जाए।खदानों मे स्वच्छ पानी मुहैया किया जाए तथा सभी आवासों का पूर्ण रूप से मरम्मत किया जाए,बांकी और कोरबा मुख्य चिकित्सालय में सभी दवाइयां उपलब्ध किया जाए तथा चिकित्सकों की कमी है उसे दूर किया जाए इसके साथ और भी कई मांगे है।

आज के कार्यक्रम में कामरेड धरमा राव, सुभाष सिंह,एन.के.दास,राजु श्रीवास्तव,कमर बक्ष,प्रमोद सिंह, एस.के.प्रसाद, ज्ञान चंद साहू, मृत्युंजय कुमार ,मनीष सिंह, अरविंद चंद्रा, उज्जवल बनर्जी, राजेश दुबे, नंद किशोर साव, अरुण राठौड़ आदि उपस्थित रहे।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button