रायपुर

“मोर महापौर-मोर द्वार”

रायपुर नगर निगम के 20 वार्ड में पहुंची शहरी सरकार

 

10 दिन में मूलभूत सुविधाओं से जुड़े 4846 आवेदनों का निराकरण

5 अगस्त तक सभी वार्ड में पहुंचेंगे महापौर, परिषद और निगम के अधिकारी

आय-जाति, निवास प्रमाण पत्र, आयुष्मान कार्ड, आधार, राशन व श्रम कार्ड के लिए वार्डवासी पहुंच रहे है शिविर में

दिव्यांगों को ट्राई सायकिल, श्रवण यंत्र, महिला समूहों को वित्तीय सहायता, स्ट्रीट वेंडर्स कार्ड की मिल रही है सुविधा

जरूरी बुनियादी अधोसंरचना विकास की सौगात दे रहे है महापौर

रायपुर। हर व्यक्ति तक नागरिक सुविधाओं की पहुंच सुनिश्चित करने एवं शिकायतों के त्वरित निराकरण के लिए रायपुर नगर निगम का “मोर महापौर-मोर द्वार” कार्यक्रम सभी 70 वार्ड में आयोजित हो रहा है। विगत 27 जून से शुरू हुए इस कार्यक्रम में महापौर एजाज़ ढेबर दूरभाष पर नागरिकों से चर्चा कर उनकी शिकायतें सुनते है एवं उसी दिन पूरी शहरी सरकार एक साथ बस में सवार होकर नियत वार्ड में जाकर समस्याओं का त्वरित निदान सुनिश्चित करती है। इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम के अंतर्गत अब तक 4846 आवेदनों का निराकरण किया जा चुका है। मोर महापौर-मोर द्वार कार्यक्रम 5 अगस्त तक संचालित होगा।

वार्डवार जन शिकायतों के निराकरण के लिए लगातार शिविर आयोजित किए जा रहे है, जिनमें महापौर, एम.आई.सी. के सदस्य, नगर निगम आयुक्त सहित मुख्यालय व जोन के अधिकारी उपस्थित रहते है। रायपुर जिला प्रशासन द्वारा नागरिक समस्याओं के निदान के लिए स्वास्थ्य, राजस्व, श्रम, नगर निवेश, लोक कर्म, महिला एवं बाल विकास विभाग, विद्युत, खाद्य जैसे महत्वपूर्ण विभागों से जुड़ी नागरिक समस्याओं के निदान के लिए शिविर में उपस्थित रहने हेतु निर्देशित किया गया है, अंतर्विभागीय समन्वय होने व सभी विभागों की शिविर में उपस्थिति का सीधा लाभ आम नागरिकों को प्राप्त हो रहा है।

“मोर महापौर-मोर द्वार“ कार्यक्रम के तहत विगत 10 दिनों में आयोजित 20 शिविरों में अब तक 4 हजार 8 सौ 46 आवेदन निराकृत किए जा चुके हैं। इन शिविरों में 1383 आय प्रमाण पत्र, 212 निवास, 186 जाति प्रमाण पत्र, 785 आयुष्मान कार्ड, 327 नये आधार कार्ड, 249 नये राशन कार्ड, 264 श्रम पंजीयन कार्ड शिविर स्थल पर ही बनाकर प्रदान किए गए है। समाज कल्याण विभाग के सहयोग से दिव्यांगजनों को ट्राई सायकिल, श्रवण यंत्र, व्हील चेयर भी इन शिविरों में प्रदान किए गए है।

शहरी आजीविका मिशन द्वारा अब तक 46 हितग्राहियों को वेंडर कार्ड, 52 लोगों को पीएम स्वनिधि प्रोफाइलिंग, 50 के लोन बैंक लिंकेज के प्रकरण तैयार कर सहायता प्रदान की गई है। इसी तरह पेंशन के 29, संपŸिाकर से संबंधित 15 प्रकरणों के निराकरण के साथ ही 439 लोगों ने अपने आधार कार्ड में जरूरी सुधार के लिए शिविर का लाभ उठाया। महिला स्वावलंबन की दिशा में कदम बढ़ाते हुए इस शिविर में महिला उद्यमी को ई-रिक्शा जैसी सुविधा भी प्रदान की गई है। स्वास्थ्य एवं स्वच्छता से जुड़ी सभी शिकायतों पर कार्यवाही करने नगर निगम ने 66 नाली एवं पुलिया की सफाई के साथ 29 स्थानों पर कचरा का उठाव के साथ ही 39 लोगों को कोविड वैक्सीनेशन की सुविधा सुलभ कराई गई। 264 नये आवेदन पर श्रमिक पंजीयन कार्ड हेतु प्रक्रिया शुरू की गई एवं संपूर्ण दस्तावेजों के साथ प्रस्तुत 35 श्रमिकों को शिविर स्थल में ही श्रम कार्ड प्रदान किया गया।

शिविर में 156 कार्डधारियों ने अपने राशन कार्ड में जरूरी सुधार कराया, वहीं 32 लोगों ने नया राशन कार्ड भी प्राप्त किया। इसके अलावा 30 नये नल कनेक्शन, 20 नल कनेक्शन सुधार, 37 जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र एवं 2 विवाह प्रमाण पत्र भी जारी हुए। प्रधानमंत्री आवास से जुड़े 39 आवेदन इन शिविरों में निराकृत हुए है, एवं विद्युत विभाग से जुड़ी 25 शिकायतों का निदान भी अब तक किया गया है। महापौर श्री एजाज़ ढेबर द्वारा वार्ड भ्रमण कर सड़क, बिजली, साफ-सफाई जैसी बुनियादी सुविधाओं का निरीक्षण भी कर रहे है एवं इस आधार पर आवश्यक निर्माण या सुधार कार्य के लिए महापौर निधि से राशि की स्वीकृति भी प्रदान कर रहे है।

मोर महापौर-मोर द्वार कार्यक्रम का आयोजन 5 अगस्त तक होगा एवं नागरिक अपने वार्ड से जुड़ी मूलभूत समस्याएं या सुझाव के संबंध में दूरभाष क्र. 9111666201 व 9301953201 पर सुबह 9-11 बजे तक महापौर श्री एजाज़ ढेबर से चर्चा कर सकते है। वार्ड वार निर्धारित तिथि में शहरी सरकार संबंधित वार्ड पर आकर जन शिकायतों पर कार्यवाही करेगी।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button