IMG-20230125-WA0035
IMG-20230125-WA0037
IMG-20230125-WA0038
कोरबा

लंबित राजस्व प्रकरणो का समय सीमा में करें निराकरण: डॉ. अलंग

संभागायुक्त ने कोरबा एसडीएम और तहसील कार्यालय का किया निरीक्षण

कोरबा/बिलासपुर के संभागायुक्त डॉ. संजय अलंग ने आज कोरबा जिला प्रवास के दौरान कोरबा एसडीएम तथा तहसील कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू की मौजूदगी में डॉ. अलंग ने राजस्व संबंधी भू-प्रकरणों की जानकारी रीडर शाखा के लिपिक से ली। उन्होंने तहसीलदार के कार्यालय में मौजूद विभिन्न पंजियों का अवलोकन किया। साथ ही अपूर्ण पाये गये पंजियों के लिए अधिकारियों पर नाराजगी जताई। उन्होंने पंजियों को अद्यतन करने के निर्देश मौके पर ही अधिकारियों को दिए। उन्होंने डायवर्सन, अर्थदण्ड आदि प्रकरणों में बी 1, बी 2, बी 7 के साथ सी श्रेेणी के रिकॉर्ड समय सीमा मंे अद्यतन करने के निर्देश उपस्थित राजस्व अधिकारियों को दिए। संभागायुक्त ने इस दौरान राजस्व अधिकारियों को राजस्व प्रकरणो को तेज़ी से नियमानुसार निराकृत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नामांतरण, बंटबारा सहित फ़ौती जैसे कामों के लिए किसानो और आम ज़नो को सरल प्रक्रिया अपनाकर परेशानी से बचाया जाये। डॉ अलंग ने पटवारी रिपोर्ट के कारण निराकृत होने से लम्बित प्रकरणो को अगले दो सप्ताह के भीतर निराकृत करने के निर्देश दिए। उन्होंने राजस्व प्रकरण के निराकरण पर जारी आदेश के बाद उसके रिक़ार्ड सुधार की करवाई करने को भी कहा, ताकि किसानो और आम ज़नो को अपने राजस्व रिक़ार्ड अपडेट होकर मिल सके। उन्होंने शाखाओं में मौजूद कर्मचारियों और प्रभारी अधिकारियों को अपनी-अपनी शाखा के सभी रिकॉर्ड अद्यतन और व्यवस्थित रखने के सख्त निर्देश दिए। संभागायुक्त ने नकल शाखा, वाचक शाखा, डब्ल्यूबीएम शाखा, कानूनगो शाखा, रिकार्ड रूम, स्थापना शाखा का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उपायुक्त राजस्व अखिलेश साहू, एडीएम सुनील नायक, एसडीएम कोरबा हरिशंकर पैकरा, सहित तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं अन्य अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहे।


संभाग आयुक्त ने वकीलों और आम ज़नो से भी किया मुलाक़ात- डॉ. अलंग ने कोरबा एसडीएम एवं तहसील कार्यालय निरीक्षण के दौरान राजस्व प्रकरणो में पैरवी करने वाले वकीलो से भी मुलाकात की तथा उनसे चर्चा किया। इस दौरान संभागायुक्त ने पेशी के लिए आए हुए किसानों और आमजनो से भी मुलाकात की और उनके प्रकरणों के बारे में जानकारी ली। डॉ.अलंग ने अधिवक्ताओं से तहसील कार्यालय से नकल आदि आसानी से प्राप्त करने की सहूलियत की जानकारी ली। संभागायुक्त ने अधिकारियों को सामान्य प्रक्रिया से पक्षकारों को नकल आदि जरूरी दस्तावेज प्रदान करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!