कोरबा

समाधान शिविर: 14 मार्च को अजगरबहार में नागरिकों के समस्याओं को सुलझाने लगेगा शिविर

राजस्व प्रकरणों के त्वरित निराकरण पर रहेगा फोकस, दस दिन पहले गांव वार होगा सर्वे

कलेक्टर रानू साहू ने बैठक में शिविर के लिए आवश्यक तैयारियां करने के दिए निर्देश

कोरबा/ कलेक्टर रानू साहू की पहल पर जिले में लोगों की आम समस्याओं के निराकरण के लिए समाधान शिविर का आयोजन किया जाएगा। जिला प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारी ग्रामीणों के समस्याओं के निराकरण के लिए गाँव- गाँव तक पहुचेंगे। कलेक्टर साहू ने कहा कि समाधान शिविर के माध्यम से नागरिकों के राजस्व प्रकरणों के त्वरित निराकरण पर फोकस रहेगा। शिविर में सभी प्रकार के राजस्व प्रकरण, फौती, नामांतरण, बटंवारा, किसान किताब बनाना,राजस्व कोर्ट प्रकरणों का निराकरण, सीमांकन, रिकार्ड दुरूस्ती आदि का निराकरण प्रमुखता के साथ किया जाएगा। शिविर में कैंप कोर्ट का भी आयोजन किया जाएगा। कैंप कोर्ट में एसडीएम, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार कोर्ट में लंबित प्रकरणों का निराकरण किया जाएगा। शिविर के दस दिन पहले आस-पास के गांवो में नागरिकों की समस्याओं की जानकारी के लिए गांव वार सर्वे कर नागरिकों से आवेदन लिया जाएगा तथा शिविर स्थल में सेवा प्रदान किया जाएगा। जिले में हर महीने दो समाधान शिविर आयोजित किए जाएंगे। यह शिविर सभी विकासखण्डो में क्लस्टर वार चिन्हांकित गाँव में आयोजित होंगे। एक क्लस्टर में चिन्हांकित गांवों में से एक गांव में शिविर का आयोजन किया जाएगा जिससे क्लस्टर में शामिल सभी गांव के नागरिकों के समस्याओं का समाधान शिविर में किया जाएगा। मार्च महीने के पहले समाधान शिविर का आयोजन 14 मार्च 2022 को विकासखण्ड कोरबा के तहसील मुख्यालय अजगरबहार में किया जाएगा। कलेक्टर रानू साहू ने अजगरबहार में आयोजित होने वाले समाधान शिविर के लिए सभी जरूरी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश बैठक में अधिकारियों को दिए है। समाधान शिविर के लिए आयोजित बैठक में एडीएम श्री सुनील नायक, जिला पंचायत सीईओ श्री नूतन कंवर, संयुक्त कलेक्टर विजेंद्र पाटले सहित सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी ,जनपद पंचायतों के मुख्यकार्यपालन अधिकारी और अन्य विभागीय अधिकारीगण शामिल हुए।

समाधान शिविर में सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहेंगे। कलेक्टर साहू ने बैठक में नागरिकों की समस्याओं की जानकारी के लिए शिविर के पहले गांव वार सर्वे करने के निर्देश अधिकारी-कर्मचारियों दिए है। उन्होंने शिविर में अधिक से अधिक लोगों को लाभांवित करने के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ भी समन्वय करने के निर्देश अधिकारियांे को दिए हैं। कलेक्टर ने शिविर में लाभांवित नागरिकों को दिए जाने वाले प्रमाण पत्रों की सुरक्षा के लिए प्रमाण पत्रों को लेमिनेशन करके देने की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए है। उन्होंने सर्वे के दौरान राशन, पेंशन एवं छात्रवृत्ति से संबंधित शिकायतों का भी चिन्हांकन कर आवेदन लेने के निर्देश दिए है। उन्हांेने दिव्यांगता प्रमाण पत्र, मोटराइज्ड ट्राइसिकल वितरण के लिए भी हितग्राहियों का चिन्हांकन सर्वे में करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने ज्यादा बिजली बिल की शिकायतांे वाले घरों का भी चिन्हांकन कर आवेदन लेने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने ड्राइविंग लाइसेंस की आवश्यकता वाले हितग्राहियों का चिन्हांकन कर शिविर के माध्यम से लाभांवित करने के निर्देश दिए है। साथ ही आरबीसी 6-4 के प्रकरणों के अंतर्गत क्षतिपूर्ति मुआवजा पानेे वाले  हितग्राहियों की जानकारी सर्वे के दौरान लेने के निर्देश दिए है। इसके अलावा समाधान शिविर में राशन कार्ड बनाना, पेंशन प्रकरणों की स्वीकृति, हितग्राही मूलक योजनाओ की सामग्री वितरण पेयजल संबंधी समस्याओं का निराकरण, हेण्डपम्प मरम्मत, जरूरत अनुसार नए हैंड पंप खोदने की स्वीकृति, बंद नलजल और स्पॉट सोर्स योजनाओ को चालू करना- मरम्मत करना, पाइप लाईन विस्तार आदि समस्याओं का भी निराकरण किया जाएगा। शिविर में आजीविका से जुड़े कार्याे की स्वीकृति, ग्रामीणों को स्व रोजगार से जोड़ना, बैंकिंग सेवाओं की समस्याओं का निराकरण किसानों की समस्याओं का समाधान आदि भी किया जाएगा।

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!