IMG-20230125-WA0035
IMG-20230125-WA0037
IMG-20230125-WA0038
कोरबा

नागरिकों के घर द्वार पहुंचकर समस्याओं का निराकरण किया जाए, समाधान शिविरों का प्रमुख उद्देश्य – राजस्व मंत्री

राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने किया वृहद समाधान शिविर का उद्घाटन, साडा कन्या स्कूल टी.पी.नगर में सम्पन्न हुआ वृहद समाधान शिविर

कोरबा – राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने आज कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वपूर्ण योजना ’’ सरकार-तुहर द्वार ’’ के तहत लगाए जाने वाले वृहद समाधान शिविरों का प्रमुख उद्देश्य है कि नागरिकों के घर द्वार पहुंचकर उनकी समस्याओं व शिकायतों की जानकारी ली जाए तथा उनका त्वरित निराकरण किया जाए ताकि आमलोगों को अपने विभिन्न कार्यो हेतु शासकीय कार्यालयों के चक्कर न लगाने पडे़, उन्हें अनावश्यक परेशान न होना पडे़ तथा उनके समय, श्रम व धन की बचत हो।
उक्त बातें राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने आज साडा कन्या स्कूल टी.पी.नगर में आयोजित वृहद समाधान शिविर के उद्घाटन अवसर पर कही। जिला प्रशासन एवं नगर पालिक निगम कोरबा द्वारा कोरबा जोन व टी.पी.नगर जोन के वार्ड क्र. 01 से 16 तक के लिए शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय साडा टी.पी.नगर कोरबा में आज वृहद समाधान शिविर का आयोजन किया गया। राजस्व मंत्री एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने शिविर का विधिवत उद्घाटन किया। इस मौके पर महापौर श्री राजकिशोर प्रसाद, कलेक्टर श्रीमती रानू साहू, सभापति श्यामसुंदर सोनी, आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय, डी.एफ.ओ. प्रियंका पाण्डेय, जिला कांग्रेस ग्रामीण के अध्यक्ष सुरेन्द्र्रप्रताप जायसवाल सहित निगम के एम.आई.सी.सदस्य संतोष राठौर, वार्डो के पार्षदगण एवं एल्डरेनगण उपस्थित थे। शिविर को संबोधित करते हुए राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने अपने उद्बोधन में आगे कहा कि यह प्रसन्नता की बात है कि छत्तीसगढ़ में जबसे हमारी सरकार पदासीन हुई है तब से गांव-गांव, शहर-शहर शासकीय योजनाओं का वास्तविक क्रियान्वयन हो रहा है, लोगों को अपनी समस्याओं, शिकायतों व जरूरतों के लिए कार्यालयों का चक्कर नहीं लगाना पड़ रहा। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के मार्गदर्शन में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा गांव, गरीब, किसान, मजदूर, महिला, युवा, बुजुर्ग, बच्चे सभी वर्ग के लिए दर्जनों योजनाएं लागू की गई हैं, शासन की सभी योजनाओं का धरातल पर वास्तविक एवं त्रुटिरहित क्रियान्वयन हों, यह जिम्मेदारी अधिकारी कर्मचारियों की है, जो भी अधिकारी कर्मचारी योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही बरतता है, उस पर कार्यवाही भी होती है। राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने आगे कहा कि एस.ई.सी.एल., एन.टी.पी.सी., बालको आदि औद्योगिक प्रतिष्ठानों द्वारा पूर्व में अधिग्रहित की गई एवं वर्तमान में उनके लिए अनुपयोगी जमीनों पर काबिज नागरिकों को पट्टा मिले, इस संबंध में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कोरबा प्रवास के दौरान मेरे द्वारा मांग रखी गई थी, मुख्यमंत्री जी द्वारा इस पर सहमति भी जताई गई थी, इसके तहत सर्वे का कार्य भी हुआ किन्तु पट्टा वितरण का कार्य अभी अधूरा है, इस दिशा मंे त्वरित कार्य होना चाहिए।
छत्तीसगढ़ सरकार जनसमस्याओं के प्रति अति गंभीर – शिविर को संबोधित करते हुए महापौर राजकिशोर प्रसाद ने अपने उद्बोधन में कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा जनता की समस्याओं का त्वरित निराकरण किया जा रहा है, वहीं राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के मार्गदर्शन में कोरबा के सर्वागीण विकास व जनसुविधाओं की बेहतरी की दिशा में लगातार कार्य हों रहे हैं। महापौर श्री प्रसाद ने कहा कि सार्वजनिक प्रतिष्ठानों द्वारा अधिग्रहित वर्तमान में अनुपयोगी जमीन पर काबिज लोगों को पट्टा दिए जाने का आग्रह राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल द्वारा मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से किया गया था, मुख्यमंत्री जी ने उस आग्रह को स्वीकार भी किया था, सर्वे हो चुका है किन्तु पट्टा देने का कार्य पूर्ण नहीं हो सका। उन्होने राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल से आग्रह किया कि वे पट्टा वितरण की कार्यवाही हेतु अधिकारियों केा निर्देशित करें। महापौर श्री प्रसाद ने राशन कार्ड बनवाने, नया नाम जुड़वाने व नाम विलोपित किए जाने की प्रक्रिया में सुधार किए जाने की जरूरत बताई तथा इस प्रक्रिया का सरलीकरण किए जाने का आग्रह राजस्व मंत्री से किया।
जनसमस्याओं के निराकरण हेतु प्रशासन कर रहा लगातार कार्य- इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने छत्तीसगढ़ी में अपना उद्बोधन देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की मंशा के अनुरूप जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में पूर्व से ही समाधान शिविर लगाए जा रहे हैं, अब जिले के नगरीय क्षेत्रों में भी समाधान शिविर लगाए जा रहे हैं, शिविर के पूर्व घर-घर जाकर लोगों की समस्याएं जानी जा रही हैं, उनसे आवेदन लिए जा रहे हैं तथा समयसीमा में उनकी समस्याएं दूर की जा रही हैं। उन्होने आगे कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा मुख्यमंत्री मितान योजना अभी हाल ही में क्रियान्वित की गई है, जिसके तहत जन्म, मृत्यु, विवाह, आय, जाति, निवास आदि प्रमाण पत्र सहित 13 प्रकार की सेवाएं लोगों के घर पहुंचाकर दी जा रही हैं। उन्होने कहा कि लोगों की समस्याओं को समयसीमा में दूर करने की दिशा में प्रशासन लगातार कार्य कर रहा है।

हितग्राहियों को राजस्व मंत्री ने किया सामग्रियों का वितरण – शिविर के दौरान राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने विभिन्न विभागों के हितग्राहियों को विविध सामग्रियों का वितरण किया। इस दौरान नगर निगम कोरबा के माध्यम से 10 सफाईमित्रों को पी.पी.किट एवं डेªस, 19 हितग्राहियों को पेंशन राशि, खाद्य विभाग से 88 हितग्राहियों को राशन कार्ड, कृषि विभाग से 14 हितग्राहियों को विद्युत पावर पम्प, हैण्डहो व ब्रशकटर, समाज कल्याण विभाग से 10 हितग्राहियों को व्हीलचेयर, 10 हितग्राहियों को रोलेटर, 06 हितग्राहियों को एम.आर.किट एवं 04 हितग्राहियों को श्रवण यंत्र सहित श्रम विभाग से श्रम कार्ड, मक्का किट वितरण, उद्यान विभाग से सब्जी मिनी किट तथा सहकारिता व मत्स्य पालन विभाग से भी हितग्राहियों को सामग्रियांॅ उपलब्ध कराई गई। राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल ने संबंधित हितग्राहियों को सामग्रियॉं प्रदान की तथा उन्हें अपनी शुभकामनाएं दी।
समस्या शिकायत मांग संबंधी 2838 आवेदनों का हुआ निराकरण – आज 11 मई को 16 वार्डो हेतु आयोजित किए गए वृहद समाधान शिविर से पूर्व ही विभिन्न समस्याओं, शिकायतों व मांगों से संबंधित 2838 आवेदनों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण विभिन्न विभागों के माध्यम से कराया गया। इस हेतु घर-घर पहुंचकर अधिकारी कर्मचारियों द्वारा लोगों से उनकी समस्याओं, शिकायतों से संबंधित आवेदन प्राप्त किए गएए थे तथा शिविर आयोजन से पूर्व उनका निराकरण करते हुए शिविर में संबंधित हितग्राहियों को जानकारियॉं प्रदान की गई, शेष आवेदनों के निराकरण पर कार्यवाही क्रमशः जारी है।

स्वच्छता दीदियों, श्रमिकों के साथ भोजन – इस मौके पर राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने स्वच्छता दीदियों व श्रमिकों के साथ एक टेबल पर बैठकर भोजन ग्रहण किया, उनके साथ महापौर राजकिशोर प्रसाद, कलेक्टर श्रीमती रानू साहू, आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय, जिला कांग्रेस कमेटी के ग्रामीण अध्यक्ष सुरेन्द्रप्रताप जायसवाल, मेयर इन काउंसिल सदस्य संतोष राठौर सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी भोजन ग्रहण किया।

विभिन्न विभागों के काउंटरों का निरीक्षण – शिविर में नगर पालिक निगम कोरबा, खाद्य विभाग, श्रम विभाग, समाज कल्याण विभाग, राजस्व विभाग, विद्युत विभाग, क्रेडा, स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास, कौशल विकास, पुलिस, आबकारी, वन, शिक्षा, सहकारिता, पी.एच.ई., कृषि, पशुधन, मछली पालन, उद्यान, जिला योजना  सांख्यिकी, जिला अत्यावसायी विभाग के काउंटर विभिन्न कक्षों में लगाए गए थे तथा संबंधित अधिकारी कर्मचारियों की तैनाती की गई थी। राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के साथ उनका निरीक्षण किया, प्राप्त आवेदनों व निराकरण की जानकारी ली। उन्होने शिविर में मोबाईल मेडिकल यूनिट का भी निरीक्षण किया।
शिविर आयोजन के दौरान सभापति श्यामसुंदर सोनी के साथ ही जिला कांग्रेस कमेटी ग्रामीण अध्यक्ष एवं पार्षद सुरेन्द्रप्रताप जायसवाल, एम.आई.सी.सदस्य संतोष राठौर, आरती विकास अग्रवाल, रवि चंदेल, धनश्री साहू, धरम निर्मले, संतोष लांझेकर, रूपसिंह गोंड, दिनेश सोनी, रितु चौरसिया, धनसाय साहू, एल्डरमेन एस.मूर्ति, सनददास दीवान, बच्चूलाल मखवानी, निगम के अपर आयुक्त खजांची कुम्हार, उपायुक्त पवन वर्मा एवं बी.पी.त्रिवेदी, अधीक्षण अभियंता एम.के.वर्मा विभिन्न जोन के जोन कमिश्नर तथा जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!