कोरबा

शहर भ्रमण कर आयुक्त ने साफ-सफाई कार्यो का लिया जायजा

समयबद्ध कार्यक्रम के तहत निर्धारित मापदण्डों के अनुरूप सफाई कार्य करने के दिए निर्देश

सफाई कार्य पश्चात कचरे तुरंत उठाव तथा डोर-टू-डोर अपशिष्ट संग्रहण कार्य पर विशेष फोकस

कोरबा/आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय ने आज प्रातः 08 बजे से सम्पूर्ण कोरबा शहर का भ्रमण कर साफ-सफाई कार्यो का सघन रूप से जायजा लिया। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि समयबद्ध कार्यक्रम के तहत निर्धारित मानदण्डों के अनुरूप सफाई कार्यो का संपादन कराए तथा सफाई कार्य के तुरंत पश्चात उत्सर्जित कचरे का उठाव व परिवहन कराया जाना सुनिश्चित करें। उन्होने निर्देशित किया कि डोर-टू-डोर अपशिष्ट संग्रहण कार्य में विशेष फोकस करते हुए इस पर और अधिक कसावट लाएं।
आयुक्त श्री पाण्डेय ने आज अधिकारियों की टीम के साथ कोरबा शहर का मैराथन दौरा किया। उन्होने शहर के विभिन्न स्थानों में साफ-सफाई कार्येा का सघन रूप से निरीक्षण करते हुए सफाई व्यवस्था में और  अधिक कसावट लाने के निर्देश दिए। भ्रमण के दौरान अपर आयुक्त श्री खजांची कुम्हार, अधीक्षण अभियंता मनोज ठाकुर, स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.संजय तिवारी, सहायक अभियंता राहूल मिश्रा आदि उपस्थित थे। इस दौरान आयुक्त श्री पाण्डेय ने शास्त्री चौक, कोसाबाड़ी, निहारिका क्षेत्र, घंटाघर, एम.पी.नगर क्षेत्र, मुड़ापार सुभाष ब्लाक, पावर हाउस रोड, सुनालिया मुख्य मार्ग, रेल्वे स्टेशन रोड, शनि मंदिर सीतामणी, कोरबा पुराना शहर, मानिकपुर सहित अन्य क्षेत्रों का भ्रमण कर स्वच्छता कार्यो का जायजा लिया। उन्होने अधिकारियों को निर्देश करते हुए कहा कि मुख्य मार्गो, आवासीय व व्यवसायिक क्षेत्रों, स्लम बस्तियों सहित सभी क्षेत्रों में नियमित रूप से साफ-सफाई के कार्य, निर्धारित मानदण्डों के अनुरूप किए जाएं, सफाई कार्येा में किसी भी सूरत मंे उदासीनता न बरती जाए, सफाई कार्य के पश्चात उत्सर्जित कचरे का तुरंत उठाव एवं परिवहन किया जाए तथा यह सुनिश्चित हो कि स्थल पर कचरा ज्यादा समय तक पड़ा न रहें।

डोर-टू-डोर अपशिष्ट संग्रहण कार्य को बेहतर करें- आयुक्त श्री पाण्डेय ने निगम के स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि डोर-टू-डोर अपशिष्ट संग्रहण कार्य को बेहतर स्वरूप में संपादित कराएं, कार्य को और अधिक विस्तार दें तथा यह सुनिश्चित करें कि शत प्रतिशत घरों से कचरा संग्रहित हों। उन्होने कहा कि घरों, दुकानों, प्रतिष्ठानों से निकलने वाला सूखा एवं गीला कचरा पृथक-पृथक डस्टबिन में संग्रहित हों तथा डोर-टू-डोर अपशिष्ट संग्रहण के दौरान गीले व सूखे कचरे को पृथक-पृथक रूप से स्वच्छता वाहन या रिक्शे में दिया जाए, इस हेतु आमलोगों को समझाईश देें, उन्हें इस हेतु प्रेरित व जागरूक करें।
गृहस्वामियों से गीला व सूखा कचरा पृथक-पृथक देने का आग्रह।

भ्रमण के दौरान आयुक्त श्री प्रभाकर पाण्डेय ने आवासीय क्षेत्रों व बस्तियों में पहुंचकर गृहस्वामियों से स्वच्छता कार्यो के संबंध मंे चर्चा की तथा उनसे आग्रह किया कि वे अपने घरों में सूखा व गीला कचरा के लिए अलग-अलग डस्टबिन रखें तथा जब डोर-टू-डोर अपशिष्ट संग्रहण हेतु स्वच्छता दीदियॉं घरों में पहुंचती हैं तो उन्हें सूखा व गीला कचरा अलग-अलग ही दें ताकि कचरे के उचित प्रबंधन में किसी प्रकार की समस्या न आए। उन्होने अपील करते हुए कहा कि कचरे को सड़क, नाली आदि में न डाले, शहर को साफ-सुथरा रखने में अपना सहयोग दें।

तालाबों व जलस्त्रोतों की सफाई पर फोकस- भ्रमण के दौरान आयुक्त श्री पाण्डेय ने पोड़ीबहार तालाब, ढेगुरनाला, मुड़ापार तालाब, मानिकपुर पोखरी आदि का निरीक्षण किया। उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिए कि तालाबों एवं जल स्त्रोतों की सफाई की जाए, पानी की सतह पर एकत्रित अपशिष्ट की सफाई के साथ-साथ तालाबों की मेढ़ पर उगी घांस, झाड़ियॉं आदि की सफाई कर तालाबों को साफ-सुथरा रखा जाए।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button