IMG-20230125-WA0035
IMG-20230125-WA0037
IMG-20230125-WA0038
Uncategorized

सरकार तुहर द्वार योजना हो रही अत्यंत कारगार साबित – राजस्व मंत्री

राजस्व मंत्री के मुख्य आतिथ्य व कोरबा सांसद की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ निगम क्षेत्र का द्वितीय समाधान शिविर

द्वितीय समाधान शिविर में 5387 लोग हुए लाभान्वित, उनकी समस्याओं का हुआ निराकरण

कोरबा – राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने आज कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ’’ सरकार-तुहर द्वार ’’ योजना आमनागरिकों की समस्याओं व शिकायतों के त्वरित निराकरण की दिशा में अत्यंत कारगार साबित हो रही है। ग्रामीण क्षेत्रों के साथ ही शहरी क्षेत्रों में भी योजना के तहत आयोजित किए जा रहे समाधान शिविरों का लाभ नागरिकों को मिल रहा है, उन्हें अपने कार्यो हेतु कार्यालयों का चक्कर नहीं लगाना पड़ रहा बल्कि अधिकारी कर्मचारी स्वयं उनके दरवाजे पर पहुंच रहे हैं तथा उनकी समस्याएं जानकर उसका निराकरण कर रहे हैं।
उक्त बातें राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने बुधवार को विद्युतगृह उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोरबा पूर्व में आयोजित वृहद समाधान शिविर के मुख्य अतिथि की आसंदी से कही। जिला प्रशासन एवं नगर पालिक निगम कोरबा द्वारा कोसाबाड़ी जोन, पं.रविशंकर शुक्ल जोन व बालको जोन के वार्ड क्र. 17 से 42 तक के लिए विद्युतगृह उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोरबा पूर्व में आज ’’ सरकार तुहर द्वार ’’ योजनांतर्गत वृहद समाधान शिविर का आयोजन किया गया। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने मुख्य अतिथि के रूप में शिविर का उद्घाटन किया, कार्यक्रम की अध्यक्षता कोरबा लोकसभा क्षेत्र की सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत ने की, इस मौके पर महापौर  राजकिशोर प्रसाद, कलेक्टर श्रीमती रानू साहू, आयुक्त  प्रभाकर पाण्डेय, जिला कांग्रेस कमेटी के ग्रामीण अध्यक्ष सुरेन्द्रप्रताप जायसवाल सहित निगम के एम.आई.सी.सदस्यगण, वार्डो के पार्षदगण एवं एल्डरमेनगण उपस्थित थे। शिविर को संबोधित करते हुए राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में साढे़ तीन वर्ष पूर्व भारी बहुमत के साथ हमारी सरकार प्रदेश में सत्तारूढ हुए तब से लेकर आज तक कई दर्जन जनकल्याणकारी योजनाएं छत्तीसगढ़ में क्रियान्वित की गई हैं, जिनका लाभ समाज के सभी वर्गो के लोगों को व्यापक पैमाने पर मिल रहा है। उन्होने कहा कि ’’ सरकार तुहर द्वार ’’ योजना अत्यंत कारगार साबित हो रही है, लोगों की समस्याओं का निराकरण उनके घर पहुंचकर किया जा रहा है, उन्हें अपने कार्यो हेतु कार्यालयों का चक्कर नहीं लगाना पड़ रहा। राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व.इंदिरा गांधी ने देश में गरीबों को पट्टे देने की शुरूआत कराई थी, छत्तीसगढ़ सरकार की भी मंशा है कि गरीब व्यक्ति को पट्टा मिले, वह जिस जगह पर बरसों से काबिज है, उसका मालिकाना हक उसे प्राप्त हो। हम सब का प्रयास है कि किसी गरीब का घर न टूटे, बरसों से जमीन पर झोपड़ी बनाकर रह रहा परिवार तनावमुक्त जीवन यापन करें। उन्होने कहा कि सार्वजनिक प्रतिष्ठानों की अनुपयोगी जमीनों में काबिज लोगों को पट्टा देने की कार्यवाही राजस्व विभाग सर्वप्राथमिकता के साथ करें, यह मेरा निर्देश है। उन्होने कहा कि जो अधिकारी कर्मचारी अपने दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरतेगा, उस पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
सरकार खुद पहुंच रही जनता के द्वार – कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहीं केारबा लोकसभा क्षेत्र की सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत ने शिविर में उपस्थित नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार स्वयं चलकर आपके घर द्वार पहुंच रही है, आपकी समस्याएं व शिकायतें पूछ रही है, उनका निराकरण  कर रही है, यह शासन की अत्यंत प्रशंसनीय पहल है। उन्होने कहा कि हम नेता के रूप में नहीं बल्कि एक जनप्रतिनिधि व जनसेवक के रूप में अपने दायित्वों का निर्वहन करें, जनता जनार्दन की समस्याओं को अपनी समस्या मानकर उन्हें दूर करें, तभी हमारी सार्थकता है। सांसद श्रीमती महंत ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार आपकी है, यह विश्वास दिलाने के लिए हम बार-बार आपके बीच आते हैं, आप विश्वास रखिएं, छत्तीसगढ़ सरकार आपके सुख-दुख में सदैव आपके साथ रही है। उन्होने कहा कि जब आमजनता हमसे कहती है कि छत्तीसगढ़ में हमारी सरकार है तो निश्चिित रूप से हमारी सेवा सार्थक हो जाती है।
शासकीय योजनाओं का हो रहा पूरी निष्ठा से क्रियान्वयन – इस अवसर पर महापौर राजकिशोर प्रसाद ने अपने उद्बोधन में कहा कि राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल एवं सांसद श्रीमती  ज्योत्सना चरणदास महंत के मार्गदर्शन में निगम द्वारा शासकीय योजनाओं का क्रियान्वयन पूरी निष्ठा के साथ किया जा रहा है, निगम के पार्षदगण, एल्डरमेनबंधु व अन्य पदाधिकारियों के माध्यम से सरकारी योजनाओं का लाभ जन-जन तक पहुंचाया जा रहा है। महापौर श्री प्रसाद ने आगे कहा कि निगम क्षेत्र में ’’ सरकार तुहर द्वार ’’ योजना के तहत आयोजित किए जा रहे शिविर अत्यंत सार्थक साबित हो रहे हैं, लोगों की समस्याएं दूर  हो रही हैं, उनकी शिकायतें खत्म हो रही है। महापौर श्री प्रसाद ने सार्वजनिक प्रतिष्ठानों की जमीनों पर काबिज लोगों का हुए सर्वे कार्य में छूटे हुए लोगों को शामिल करने व अन्य वार्डो में भी सर्वे कार्य कराकर पट्टे के संबंध में त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिए जाने का आग्रह राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल से किया।
सरकार तुहर द्वार कार्यक्रम को मिल रहा अच्छा प्रतिसाद – कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने अपने उद्बोधन में कहा कि ’’ सरकार तुहर द्वार ’’ कार्यक्रम के तहत सर्वप्रथम ग्रामीण क्षेत्रों में वृहद समाधान शिविर लगाए गए व कार्यक्रम संचालित किए गए, अब इसके साथ ही शहरी क्षेत्रों में भी ’’ सरकार तुहर द्वार ’’ कार्यक्रम चलाया जा रहा है, जिसका अच्छा प्रतिसाद प्राप्त हो रहा है, नागरिकों का बहुत ही अच्छा सहयोग इस कार्यक्रम को मिल रहा है, जो हम सबके लिए अत्यंत प्रसन्नता का विषय है। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने आगे कहा कि नागरिकों को पेंशन, राशन कार्ड सहित अपनी छोटी-बड़ी समस्याओं के लिए कार्यालयों का चक्कर न लगाना पडे़, उनके घर पहुंचकर ही इनका समाधान कर दिया जाए, यही इस कार्यक्रम का प्रमुख उद्देश्य है।

हितग्राहियों को किया सामग्री का वितरण – वृहद समाधान शिविर के दौरान राजस्व मंत्री  जयसिंह अग्रवाल एवं सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत द्वारा विभिन्न विभागों के हितग्राहियों को सामग्रियों का वितरण किया गया। इस दौरान नगर पालिक निगम केारबा के 20 राशन कार्ड का वितरण, कृषि विभाग से 05 विद्युत पम्प, 03 ब्रशकटर, 04 थैला उडद बीज, 16 थैले मक्का बीज, समाज कल्याण विभाग से 05 हितग्राहियों को व्हीलचेयर, 05 रो-लेटर, 04 एम.आर.किट, 03 श्रवण यंत्र, मछलीपालन विभाग से आईसबाक्स, सहकारिता विभाग से 05 हितग्राहियों को नकद 01 लाख 76 रूपये व श्रम विभाग से 29 असंगठित कर्मकार प्रमाण पत्र आदि का वितरण हितग्राहियों को किया गया।

5387 लोग लाभान्वित, समस्याओं का हुआ निराकरण – निगम के वार्ड क्र. 17 से वार्ड क्र. 42 तक हेतु आयोजित किए गए आज के वृहद समाधान शिविर से पूर्व ही विभिन्न समस्याओं, शिकायतों व मांगों से संबंधित 5387 आवेदनों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण विभिन्न विभागों के माध्यम से कराया गया। नगर पालिक निगम केारबा के 3348, राजस्व विभाग के 319, खाद्य विभाग के 988, महिला एवं बाल विकास विभाग के 103, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के 15, श्रम विभाग के 29, उद्यान विभाग के 15, मछलीपालन विभाग 01, कृषि विभाग 28, छ.ग.रा.वि.कम्पनी के 169, शिक्षा विभाग 62, समाज कल्याण विभाग के 17, आदिवासी विकास विभाग के 288, सहकारिता विभाग के 05 आवेदनों का निराकरण करते हुए हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया।

विभिन्न विभागों के काउंटरों का निरीक्षण – शिविर में नगर पालिक निगम कोरबा, खाद्य विभाग, श्रम विभाग, समाज कल्याण विभाग, राजस्व विभाग, विद्युत विभाग, क्रेडा, स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास, कौशल विकास, पुलिस, आबकारी, वन, शिक्षा, सहकारिता, पी.एच.ई., कृषि, पशुधन, मछली पालन, उद्यान, जिला योजना  सांख्यिकी, जिला अत्यावसायी विभाग के काउंटर विभिन्न कक्षों में लगाए गए थे तथा संबंधित अधिकारी कर्मचारियों की तैनाती की गई थी। राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल एवं सांसद श्रीमती महंत ने जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के साथ उनका निरीक्षण किया, प्राप्त आवेदनों व निराकरण की जानकारी ली।
कार्यक्रम के दौरान मेयर इन काउंसिल सदस्य संतोष राठौर, सुनीता राठौर, सुखसागर निर्मलकर, फूलचंद सोनवानी, प्रदीप राय जायसवाल, पालूराम साहू, कृपाराम साहू, वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री उषा तिवारी, हरिश परसाई, निगम के पार्षद चन्द्रलोक सिंह, नारायणदास महंत, अनुज जायसवाल, अब्दुल रहमान, आशा जायसवाल, शैलेन्द्र सिंह पप्पी, राजेन्द्र सूर्यवंशी, प्रतिभा निखिल शर्मा, अनिता यादव, पुष्पा देवीदयाल सोनी, नर्मदा प्रसाद लहरे, गंगाराम भारद्वाज, तरूण राठौर, गीता किरण, दिनेश सोनी, रवि चंदेल, एल्डरमेन आरिफ खान, रूपा मिश्रा, एस.मूर्ति, बच्चूलाल मखवानी, महिला कांग्रेस अध्यक्ष कुसुम द्विवेदी, रश्मि सिंह, ठाकुर अवधेश सिंह, पूर्व पार्षद महेश अग्रवाल, सूरज महंत, सुरभि महंत, किरण चौरसिया आदि के साथ अन्य लोग उपस्थित थे।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!