कोरबा

ईएसआईसी हॉस्पिटल जल्द शुरू कराने स्पीकर व सांसद ने प्रबंधन की ली बैठक

 

कोरबा/ कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा डिंगापुर में स्थापित ईएसआईसी अस्पताल को शीघ्र श्रमिकों व उनके परिजनों के लिए प्रारंभ करने के संबंध में छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत एवं सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने अस्पताल प्रबंधन की बैठक ली। उपस्थित चिकित्सा अधिकारियों से कहा गया कि कोरोना की तीसरी लहर में प्रकरण न के बराबर हैं और कोविड केयर अस्पताल के तौर पर ईएसआईसी अस्पताल की उपयोगिता नहीं है। जल्द ही जिले के श्रमिकों को इस अस्पताल का लाभ मिलना सुनिश्चित किया जाए।

विधानसभा अध्यक्ष एवं सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने संयुक्त रूप से ली गई बैठक में कहा कि 100 बिस्तर वाले इस ईएसआईसी अस्पताल को कोविड की पहली और दूसरी लहर में कोविड केयर सेंटर बनाया जाकर लगभग 3 हजार से अधिक संक्रमितों का उपचार किया गया। इस अस्पताल में लगभग 1 लाख श्रमिक वर्ग के लोगों का पंजीयन हुआ है। औद्योगिक जिले में अब ईएसआईसी बीमित व्यक्तियों तथा गैर-कोविड/नियमित चिकित्सा सेवाओं को प्रारंभ करने की आवश्यकता है। इस बैठक में ईएसआईसी अस्पताल प्रबंधन से सहायक संचालक एसके बर्नवाल, डॉ. दयानंद होता, डॉ. उदय राज, डॉ. सतीश चक्रवर्ती, डॉ. डेविस विन्सेंट सहित अन्य स्टाफ उपस्थित रहे।

 डॉ. महंत की पहल पर रखी गई नींव

ईएसआईसी अस्पताल तत्कालीन सांसद एवं केन्द्रीय कृषि खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री डॉ. चरणदास महंत की पहल पर प्रारंभ कराया गया। लगभग 5 एकड़ क्षेत्रफल में यह अस्पताल वर्ष 2019 में पूर्ण हुआ। हालांकि उस दौरान थोड़े बहुत कार्य शेष थे तब केन्द्रीय श्रम मंत्री व केन्द्र एवं राज्य सरकार के गणमान्यजनों द्वारा इसका उद्घाटन किया गया। अस्पताल में कुल 22 अधिकारी है, जिनमें सहायक निदेशक, विशेषज्ञ अधिकारी, बीमा चिकित्सा अधिकारी, पैरामेडिकल स्टाफ और मिनीस्टेरियल स्टाफ ड्यूटी शामिल हैं।

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!