कोरबा

जिले में 29 जनवरी को फिर चलेगा कोविड वैक्सीनेशन महाभियान

कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

कोरबा/ कोरोना सक्रमण से बचाव के लिए लोगों को कोविड टीका लगाने के लिए पूर्व में चलाये गये कोविड वैक्सीनेशन महाभियान को आगे भी चलाया जाएगा। 29 जनवरी को वैक्सीनेशन महाभियान में टीका लगाने से छुटे हुए लोगों को आवश्यकता अनुसार कोविड का पहला और दूसरा टीका लगाया जाएगा। पूर्व में अभियान की सफलता को देखते हुए 29 जनवरी को सभी विकासखण्ड में कोविड वैक्सीनेशन महाभियान का आयोजन किया जाएगा। कलेक्टर श्रीमती साहू ने समय सीमा की बैठक में अधिकारियों को वैक्सीनेशन महाभियान की तैयारियां करने और 15 वर्ष से अधिक आयु के शत-प्रतिशत लोगों को कोविड टीका लगाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जिले में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने के लिए लक्ष्य से कम टीकाकरण हुए क्षेत्रों में छुट गए लोगों की पूरी सूची तैयार की जाए तथा ऐसे लोगों को विशेष रूप से प्रोत्साहित कर टीकाकरण कराया जाए। कलेक्टर श्रीमती साहू ने कहा फ्रन्टलाइन वर्कर्स और हेल्थ केयर वर्कर्स तथा साठ वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को बूस्टर डोज भी लगाया जाएगा। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने कार्यालय के अधिकारी-कर्मचारियों का शत-प्रतिशत कोविड टीकाकरण और जरूरत अनुसार बूस्टर डोज भी लगवाई जाए। उन्होेंने सभी बीएमओ, एसडीएम, सीईओ,बीईओ एवं सीडीपीओ को समन्वय कर कार्यायोजना बनाने के निर्देश दिए। वर्चुवल रूप से आयोजित समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में जिला पंचायत के सीईओ नूतन कंवर, नगर निगम आयुक्त प्रभाकर पांडेय, एडीएम  सुनील नायक सहित सभी विभागों के अधिकारीगण शामिल हुए।

समय सीमा की साप्ताहिक बैठक में कलेक्टर श्रीमती साहू ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान जिले में कोरोना सक्रमण की वर्तमान स्थिति, किए जा रहे कोरोना टेस्ट, संक्रमित मरीजों की इलाज की व्यवस्था एवं कोरोना के कारण मृतक मरीजों के डेथ ऑडिट के बारे में जानकारी सीएमएचओ डॉ. बी.बी. बोडे से ली। उन्होंने संक्रमण को रोकने अधिक से अधिक कोरोना संग्दिध लोगों का कोरोना जांच कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्रीमती साहू ने कोरोना के नए वेरियेंट ओमिक्रॉन की पहचान के लिए अस्पताल मे भर्ती होने वाले कोरोना संक्रमित मरीजों का सेम्पल भुवनेश्वर स्थित लैब में भेजने के निर्देश दिए। बैठक में कलेक्टर ने छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन के बारे में भी अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने सभी विभागांे को स्थानीय स्तर पर युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार प्रदान करने के लिए ट्रेनिंग की कार्ययोजना और रोजगार के क्षेत्र चिन्हांकन के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने बैठक में लंबित राजस्व प्रकरणों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने भू-अर्जन और मुआवजा से संबंधित लंबित प्रकरणों का समय सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button