कोरबा

कलेक्टर श्रीमती साहू ने विभागीय अधिकारियों की ली समीक्षा बैठक,

क्लस्टर के गांवों में डोर टू डोर सर्वे कर नागरिकों से राशन, पेंशन एवं राजस्व प्रकरणों के निराकरण के लिए जायेंगे आवेदन

शासकीय भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के दिए निर्देश

शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन सक्रियता से करने के भी दिए निर्देश

कोरबा/कलेक्टर रानू साहू ने शुक्रवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में सभी विभागों के विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने विभागीय कार्यों की समीक्षा की और जिला अधिकारियों को अपने कर्तव्यों का निर्वहन गंभीरता से करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्रीमती साहू ने विभागों के मैदानी अमलों को भी शासकीय योजनाओं का क्रियान्वयन सक्रिय होकर करने के निर्देश दिए। उन्होंने विकासखंडवार बनाये गये गांवों के क्लस्टर में प्रत्येक महिने हर ब्लाक में दो क्लस्टरों के गांवों में डोर टू डोर सर्वे कर नागरिकों से राशन कार्ड, नवीन पेंशन, पेंशन के लंबित भुगतान, दिव्यांगजनों को ट्राईसिकल, सामुदायिक कृषि प्रोत्साहन के प्रकरण, क्लस्टर के तालाबों में मत्स्य समूहों को जोड़ने आवेदन, किसानों को सहकारी समितियों से जोड़ने के आवेदन, किसान-किताब वितरण, सीमांकन, नामांकन, नक्शा बटांकन, जाति, आय, मूल निवास प्रमाण पत्र आदि से संबंधित आवेदन लेने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जल संरक्षण के लिए शासकीय भवनो, स्कूलों, आंगनबाड़ी केन्द्रो, आश्रम-छात्रावासों भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के निर्देश बैठक में मौजूद अधिकारियों को दिए। उन्होंने नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में नागरिकों को जल संरक्षण के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए भी कहा। कलेक्टर श्रीमती साहू ने शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य, विद्युत, जिला पंचायत, सड़क निर्माण, महिला बाल विकास विभाग, गोठान, नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी, खाद्य विभाग, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना, पशुपालन विभाग, नगरीय निकाय, भूमिहीन ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना आदि फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने शिक्षा विभाग के अन्तर्गत शिक्षकों की नियमित उपस्थिति, स्कूलों में मध्यान्ह भोजन की उपलब्धता आदि की जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी से ली। इसी प्रकार स्वास्थ्य केन्द्रों में दवाईयों और स्वास्थ्य अमले की उपलब्धता, ओपीडी, आईपीडी, सर्जरी, आयुष्मान कार्ड से ईलाज एवं हाट-बाजार क्लिनिक योजना के तहत उपचारित मरीजों के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर श्रीमती साहू ने बिजली विभाग के अधिकारियों को विकासखंडवार हर हफ्ते बिजली बिल से संबंधित शिकायतों के निराकरण के लिए सर्वे करने और शिविर लगाकर शिकायतों के निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने बिजली बिल के नये कनेक्शन की आवश्यकता वाले ग्रामीणों से आवेदन लेकर कनेक्शन प्रदान करने के निर्देश दिए। इस दौरान अपर कलेक्टर सुनील नायक, जिला पंचायत सीईओ नूतन कंवर, डीएफओ श्रीमती प्रेमलता यादव सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

कलेक्टर श्रीमती साहू ने समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत जिले में किये गये कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने रोपे गये पौधों और रकबों की जानकारी फोटोग्राफ्स के माध्यम से देने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सीमांकन, बंटाकन, भू-अर्जन, फौती, नामांतरण आदि के लंबित राजस्व प्रकरणों को भी समय सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने पटवारियों के मुख्यालय में उपलब्धता सुनिश्चित करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने मनरेगा के अन्तर्गत किए जा रहे कार्य और समय पर मजदूरी भुगतान की भी जानकारी अधिकारियों से ली। कलेक्टर ने सामाजिक सुरक्षा संबंधी पेंशनों का वितरण, नवीन राशन कार्ड, भूमिहीन मजदूरों के न्याय योजना में पंजीकरण आदि की भी जानकारी अधिकारियों से ली। उन्होंने शासकीय योजनाओं का लाभ शत प्रतिशत नागरिकों को दिलाना सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में कलेक्टर श्रीमती साहू ने शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, धन्वंतरि मेडिकल योजना, स्कूलों में मध्यान्ह भोजन, आंगनबाड़ी केंद्रों में पोषण आहार वितरण एवं गर्म भोजन की व्यवस्था, गौठानों का सुचारू संचालन एवं गौठानों में आर्थिक गतिविधियों का संचालन, सामाजिक सुरक्षा संबंधी पेंशनों का वितरण, रबी फसलों के लिए खाद एवं बीजों की उपलब्धता, जन सुविधा केंद्रों की सेवायें सहित स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल तथा हिंदी माध्यम स्कूलों के संचालन के बारे में जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!