कोरबा

सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम में 213 किसानों का बना किसान क्रेडिट कार्ड

खेती की चिंता हुई दूर, समिति से पैसे एवं खाद-बीज प्राप्त करने मे होगी आसानी

 

कोरबा /कलेक्टर श्रीमती रानू साहू के मार्गदर्शन में जिले मे आयोजित किये जा रहे सरकार तुंहर द्वार कार्यक्रम से जिलेवासी लाभान्वित हो रहे है। शिविर के माध्यम से सभी वर्गो को राशन, पेंशन आदि सुविधाओं का लाभ मिल रहा है। शिविर के माध्यम से किसानों को भी खेती करने के लिए आवश्यक सुविधाएं प्रदान की जा रही है। साथ ही किसानों को शासकीय योजनाओं का भी लाभ प्रदान किया जा रहा है। नोनबिर्रा में आयोजित सरकार तुंहर द्वार शिविर में 213 किसानों का नया किसान क्रेडिट कार्ड बनाया गया। शिविर के पहले सर्वे करके किसानों से आवेदन लिये गये थे। शिविर स्थल में किसानों को केसीसी कार्ड का वितरण कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में किया। नये केसीसी कार्ड बन जाने से किसानों की खेती की चिंता दूर हो गयी है। केसीसी कार्ड के माध्यम से अब उन्हें खेती करने के लिए बिना ब्याज के रूपये सहकारी समितियों से मिल सकेंगी। साथ ही रियायत दर पर खाद-बीज भी प्राप्त होगी।
सरकार तुंहर द्वार शिविर में नया केसीसी कार्ड बन जाने पर ग्राम नोनबिर्रा के किसान श्री अनिल कुमार कंवर ने खुशी जाहिर करते हुए बताया कि उनके पास लगभग सात एकड जमीन है। पहले खेती करने के लिए आवश्यक खाद-बीज बाजार से खरीदना पडता था। जिसमें अधिक रूपये खर्च होते थे। साथ ही खेती करने के लिए जरूरी पैसे भी अधिक ब्याज पर बाहर से लेना पडता था। उन्होने बताया कि सहकारी समिति के माध्यम से किसान क्रेडिट कार्ड बन जाने से उनको एक लाख 14 हजार रूपये की क्रेडिट लिमिट मिल गयी है। जिसमे से 68 हजार 700 रूपये नगद के रूप में और 45 हजार 800 रूपये के खाद-बीज प्राप्त करने की सुविधा प्राप्त हो गयी है। केसीसी कार्ड प्राप्त करने शिविर में आये ग्राम जुनवानी के किसान श्री बुधवार सिंह ने बताया कि केसीसी कार्ड के माध्यम से खेती-किसानी मंे आसानी होगी तथा अधिक फसल उत्पादन करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा।

Editor in chief | Website | + posts
Back to top button
error: Content is protected !!