कोरबा

योजनाओं के क्रियान्वयन व संचालन में उदासीनता कतई स्वीकार्य नहीं – आयुक्त

शासन की योजनाओं का सफल संचालन व लोगों तक उनका लाभ पहुंचाना हमारा सर्वोच्च दायित्व

आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय ने निगम के अधिकारियों की बैठक लेकर विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की कार्यप्रगति की समीक्षा की, पूर्ण निष्ठा के साथ व एलर्ट मोड पर कार्य करने के दिए निर्देश

कोरबा  – आयुक्त  प्रभाकर पाण्डेय ने निगम के अधिकारियों को  कड़ा संदेश देते हुए कहा है कि शासन की जनकल्याणकारी योजनाओ के संचालन व क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की उदासीनता स्वीकार्य नहीं होगी, अतः इन योजनाओं का संचालन पूरी इच्छाशक्ति के साथ करें तथा शासन की मंशा के अनुरूप पात्र लोगों को इनका लाभ समयसीमा पर मिले, यह अंतिम रूप से सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि  नागरिको की समस्याओं को पूरी गंभीरता से लें, समयसीमा पर समस्याओं का निराकरण कराएं, अपने दायित्वों के निर्वहन के प्रति सजग रहे, निष्ठा के साथ कार्य करें।

आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय ने गुरुवार को नगर पालिक निगम कोरबा के मुख्य प्रशासनिक भवन साकेत स्थित सभाकक्ष मे अधिकारियों की बैठक लेकर शासन की विभिन्न जनहितैषी योजनाओं के क्रियान्वयन की कार्यप्रगति की योजनावार समीक्षा की। बैठक के दौरान उन्होने गोधन न्याय योजना, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, मुख्यमंत्री सस्ती दवा दुकान श्री धन्वंतरी योजना, मुख्यमंत्री डायरेक्ट बिल्डिंग परमिशन स्कीम, मुख्यमंत्री मितान योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वनिधि योजना, विभिन्न पेंशन योजनाओं सहित अन्य योजनाओं की कार्यप्रगति की बिन्दुवार समीक्षा करते हुए योजनाओं का त्रुटिरहित क्रियान्वयन एवं सफल संचालन किए जाने के कडे़ निर्देश अधिकारियों को दिए। आयुक्त श्री पाण्डेय ने गोधन न्याय योजनांतर्गत गोठानों की व्यवस्थाएं, गोबर की खरीदी, खाद निर्माण एवं उसका विक्रय आदि की बिन्दुवार समीक्षा करते हुए कार्यो में तेजी लाने, व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त रखने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होने मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना व श्री धन्वंतरी योजना की समीक्षा करते हुए स्लम क्षेत्रों में शिविरों के सुचारू संचालन, नागरिकों की निःशुल्क जांच व इलाज, मोबाईल मेडिकल यूनिटों में दवाईयों की पर्याप्त उपलब्धता, श्री धन्वंतरी मेडिकल स्टोर्स में जेनेरिक दवाओं की उपलब्धता व निर्धारित छूट के साथ दवाओं की बिक्री आदि के संबंध मंे अधिकारियों का मार्गदर्शन किया। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए बी.एल.सी.घटक के अंतर्गत अप्रारंभ कार्यो को तत्काल प्रारंभ कराने, प्रगतिरत कार्यो में तेजी लाने तथा ए.एच.पी.घटक अंतर्गत निर्मित रिक्त आवासगृहों की आबंटन प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। आयुक्त श्री पाण्डेय ने मुख्यमंत्री डायरेक्ट बिल्डिंग परमिशन स्कीम, मुख्यमंत्री मितान योजना, स्वनिधि योजना आदि योजनाओं की समीक्षा करते हुए इनका सफल संचालन करने के संबंध मंें भी अधिकारियों का मार्गदर्शन किया।

आवेदनों के निराकरण में तेजी लाएं – आयुक्त  प्रभाकर पाण्डेय ने बैठक के दौरान सरकार तुहर द्वार कार्यक्रम के तहत दर्री जोन में 08 जून को आयोजित होने वाले वृहद समाधान शिविर के तहत आमनागरिकों से प्राप्त शिकायतों व समस्याओं से संबंधित आवेदनों की वर्तमान स्थिति की समीक्षा करते हुए इनका संतुष्टिपूण निराकरण की कार्यवाही सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ किए जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होने कहा कि संबंधित विभागों व निगम की शाखाओं से संबंधित आवेदनों को संबंधित विभागों में भेजकर उनके निराकरण की कार्यवाही त्वरित रूप से कराएं।

रैनवाटर हार्वेस्टिंग कार्य प्रगति की समीक्षा- बैठक के दौरान आयुक्त श्री पाण्डेय ने निगम के स्वामित्व वाले भवनों में पूर्व निर्मित रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की मरम्मत का कार्य तत्काल पूर्ण किए जाने, जिन भवनों में रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं है, वहॉं पर निर्माण कार्य तुरंत प्रारंभ करवाने के कड़े निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होने नगर निगम कोरबा के आधिपत्य वाली रिक्त दुकानों के आबंटन हेतु निविदा की कार्यवाही करने, रिक्त जर्जर दुकानों की मरम्मत करने, पुरानी जर्जर व डिस्मेंटल योग्य दुकानों का डिस्मेंटल कर नई दुकानों का निर्माण करने, रिक्त व्यवसायिक व आवासीय भूखण्डों के व्ययन हेतु निविदा आदि की कार्यवाही करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए।

निर्माण कार्यो की गुणवत्ता व समयसीमा पर फोकस – बैठक के दौरान आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय ने निगम द्वारा विभिन्न मदों के अंतर्गत किए जा रहे विकास कार्यो की कार्यप्रगति की समीक्षा की। उन्होने जिला खनिज न्यास मद, अधोसंरचना मद, निगम मद,, सांसद मद, प्रभारी मंत्री मद, मुख्यमंत्री की घोषणा, सी.एस.आर.मद, विधायक, महापौर, पार्षद व एल्डरमेन मद, वित्त आयोग मद सहित अन्य विभिन्न मदों के तहत किए जाने वाले विकास व निर्माण कार्येा की कार्यप्रगति की समीक्षा करते हुए कार्यो में आवश्यक गति लाने के निर्देश दिए। आयुक्त श्री पाण्डेय ने अधिकारियों को स्पष्ट रूप से कहा कि निर्माण कार्यो की गुणवत्ता व समयसीमा पर विशेष ध्यान दें, कार्यो की क्वालिटी अनिवार्य रूप से मेनटेन हों, यह सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि कार्य की गुणवत्ताहीनता पर संबंधित निर्माण एजेंसी व अभियंता पर जवाबदारी फिक्स की जाएगी। इस दौरान उन्होने निगम की साफ-सफाई व्यवस्था, स्ट्रीट लाईट, विद्युतीकरण कार्य, पेयजल आपूर्ति सहित अन्य नागरिक सेवाओं व सुविधाओं से जुडे़ कार्यो की समीक्षा की तथा आवश्यक दिशा निर्देश अधिकारियों को दिए।

वर्षा पूर्व सभी नाले-नालियों की सफाई- बैठक के दौरान आयुक्त श्री पाण्डेय ने निगम क्षेत्र में स्थित बडे़ नालों एवं नालियों के सफाई कार्य की कार्यप्रगति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि वर्षा ऋतु का आगमन होने वाला है, अतः कार्य में तेजी लाकर बरसात से पूर्व नाले नालियों की सम्पूर्ण सफाई सुनिश्चित कराएं। उन्होने कहा कि जिन नालों की सफाई की जा चुकी है, उन पर भी नजर रखें तथा जहॉं कहीं भी कचरे की स्थिति दिखती है, वहॉं पर निरंतर सफाई कराते रहें ताकि बरसात के दौरान पानी का प्रवाह निर्वाध रूप से हों तथा कहीं पर भी जलभराव की स्थिति न बने।

समयसीमा के प्रकरणों की समीक्षा – आयुक्त श्री पाण्डेय ने बैठक के दौरान कलेक्टर टी.एल. एवं जनदर्शन, निगम के टी.एल.प्रकरण, शासन के पत्रों पर की गई कार्यवाही, जनचौपाल सहित अन्य महत्वपूर्ण प्रकरणों के निराकरण की कार्यप्रगति की समीक्षा की। उन्होने प्रकरणों का समयसीमा में निराकरण किए जाने के निर्देश देने के साथ ही अधिकारियों से कहा कि यह अंतिम रूप से सुनिश्चित करें कि कोई भी प्रकरण निर्धरित समयसीमा के पश्चात लंबित न रहे।

 बैठक के दौरान निगम के अपर आयुक्त खजांची कुम्हार, अधीक्षण अभिंयता एम.के.वर्मा एवं मनोज सिंह ठाकुर, उपायुक्त बी.पी.त्रिवेदी एवं पवन वर्मा, जोन कमिश्नर ए.के.शर्मा, आर.के.माहेश्वरी, एम.एन.सरकार, अखिलेश शुक्ला, विनोद शांडिल्य, तपन तिवारी, एन.के.नाथ, कार्यपालन अभियंता भूषण उरांव, स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.संजय तिवारी, सुनील वर्मा, संपदा अधिकारी श्रीधर बनाफर, राजस्व अधिकारी अशोक बनाफर, सहायक अभियंता प्रकाश चन्द्रा, डी.सी.सोनकर, योगेश राठौर, एच.आर.बघेल, विपिन मिश्रा, राहुल मिश्रा, रमेश सूर्यवंशी, यशवंत जोगी, सुनील गुप्ता, जितेश राठौर, हर्ष छत्रवाणी, सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Editor in chief | Website | + posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button